Mahashivratri, Shiv Temple (2)

  • महाशविरात्रि पर कोरोना का असर

वर्धा. जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने 31 मार्च तक संचारबंदी लगाई है. धार्मिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी़ परिणामवश इस बार महाशिवरात्रि पर कोरोना का संकट देखा गया. गुरुवार को शिवालयों के प्रवेशद्वार बंद रखे गए थे. बावजूद इसके श्रध्दालुओं की आस्था में कोई कमी देखने नहीं मिली. हर हर महादेव की गूंज सुबह से सुनाई दी. स्थानीय महादेवपुरा स्थित प्राचीन शिवमंदिर में कोरोना के चलते श्रध्दालुओं को भीतर प्रवेश नहीं दिया.

परिणामवश एक एक कर कुछ श्रध्दालु मंदिर में पहुंचे. उन्होंने सूचनाओं का पालन करते हुए मंदिर के प्रवेशद्वार पर ही पूजा अर्चना की़ भगवान शिव के दूर से ही दर्शन कर श्रध्दालु वापिस लौटते दिखाई दिए. जिले के अन्य शिव मंदिरों में यहीं स्थिति रही. कोटेश्वर, ढगा भूवन, पोहणा, हरिओमबाबा आश्रम लसणपुर सहित अन्य ठिकाणो पर होनेवाली यात्रा भी रद्द कर दी गई.

Mahashivratri, Shiv Temple

महाशिवरात्रि के दिन यहां सन्नाटा छाया हुआ था. श्रध्दालुओं ने भी प्रशासन के निर्देशों का पालन करते हुए मंदिरों में भीड़ नहीं की़ सभी शिवायलों के परिसर में पुलिस को बंदोबस्त लगाया गया था. ढगा भूवन की ओर जानेवाले श्रध्दालुओं को खरांगणा पुलिस ने सूचना कर वापस लौटाया.