Woman crime
प्रतीकात्मक तस्वीर

    देवली (सं). 18 वर्षीय युवती को महिला सहित अन्य चार लोगों ने घर से बाहर खींचकर बीच सड़क पर लाने के उपरांत निवस्त्र कर बेरहमी से पीटा़ मानवता को शर्मसार करने वाली यह घटना शनिवार सुबह 10 बजे आंबेडकरनगर में घटी़ घटना के उपरांत देवली शहर में खलबली मच गई है़ निंदनीय घटना को लेकर जनमानस में तीव्र रोष व्यक्त किया जा रहा है़ दरमियान पुलिस ने महिला सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है.

    जानकारी के अनुसार पीड़िता के साथ 5 जून को रेशमा पचारे ने विवाद किया था़ इस दौरान पीड़िता के साथ गालीगलौज हुई थी़ इसके बाद 6 जून की सुबह 10 बजे फिर से पीड़िता के साथ विवाद छिड़ गया़ परिणामवश रेशमा पचारे अपने कुछ साथियों के साथ पीड़िता के घर में घुसे़ यहां तू मेरे पति के साथ छत पर क्या कर रही थी, ऐसा कहकर उसकी पिटाई शुरू कर दी़ महिला के अन्य साथियों ने भी युवती को लात घूंसों से मारना शुरू किया़ वे इतने पर ही नहीं रूके तो पीड़िता को घर से बाहर खींचते हुए लेकर आये, जहां पीड़िता को निर्वस्त्र कर उसकी बीच सड़क पर जमकर पिटाई की़ यह वाकया सामने आते ही गांव में हड़कम्प मच गया.

    पीड़िता ने थाने पहुंचकर दी शिकायत 

    किसी तरह पीड़िता उनके चंगुल से छुटकर देवली थाना पहुंची, जहां अपनी आपबिती कथन की़  पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने पांचों आरोपियों के खिलाफ अनुसूचित जाति जनजाति प्रतिबंधक कानून तथा विविध धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया़  साथ ही पुलिस ने आरोपी दत्तू विनायक पचारे (34), गजानन दौलत पचारे (51), रेशमा सुनील पचारे (24), मीनाक्षी गजानन पचारे (37), सोनम दत्तू पचारे (30) को हिरासत में ले लिया़  घटना के बाद से परिसर में चर्चाओं का बाजार गरमाया हुआ है़  इसकी सभी स्तर पर निंदा की जा रही है़  प्रकरण की गंभीरता को समझते हुए क्षेत्र के उपविभागीय अधिकारी गोकुलसिंह पाटिल ने घटनास्थल पर जाकर स्थिति का जायजा लिया़  प्रकरण में आगे की कार्रवाई डीवाईएसपी के गोकुलसिंह पाटिल के मार्गदर्शन में चल रही है. 

    आरोपियों को जेल में किया रवाना 

    सभी आरोपियों को हिरासत में लेकर देवली पुलिस ने न्यायालय में पेश किया, जहां पुलिस ने न्यायालय से उनका पीसीआर मांगा़  परंतु न्यायालय ने सभी आरोपियों को न्यायालयीन कस्टडी सुनाई. 

    वारदात को लेकर असंतोष कायम

    इस वारदात के बाद जिले में सर्वत्र असंतोष व्यक्त किया जा रहा है़  इस प्रकार किसी युवती को निर्वस्त्र कर सरेआम पीटना अत्यंत निंदनिय बात है़  घटना के आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग हो रही है.