Bhid

    वर्धा. महीनाभर के सख्त लाकडाउन के उपरांत मंगलवार को फिर दूकानें शुरू होते ही सिटी के मार्गों पर नागरिकों की भीड़ दिखाई दी़ नागरिकों की चहल-पहल के साथ ही बाजार फिर से गुलजार हो गया. लोग किराना, सब्जी एवं अन्य आवश्यक वस्तुओं की खरीदी कर रहे थे़ मेन रोड पर अमृत योजना का कार्य शुरू होने से एक ही छोर से यातायात शुरू था, जिससे ट्राफिक की समस्या निर्माण हो गई थी़ अनलाक का पहला दिन होने से नगर परिषद द्वारा नियुक्त उड़न दस्ते ने कड़ाई से कार्रवाई नहीं की. वहीं कर्मचारियों द्वारा नागरिकों को कोरोना नियमों का पालन करने का आह्वान किया जा रहा था़ कोरोना की दूसरी लहर की गंभीरता को लेकर विशेषज्ञों द्वारा किए गए आकलन से वह कई गुना घातक साबित हुई है. मरीजों में अचानक से हुई वृद्धि के कारण अस्पतालों में बेड भी उपलब्ध नहीं हो रहे थे़ मृतकों का आंकड़ा बढ़ने से श्मशान घाट के हाल बेहाल हो गए थे.

    खरीदारी करने बाहर निकले लोग 

    इससे प्रशासन ने लाकडाउन के तहत कड़े नियम लागू किए थे़  लगातार एक महीना लाकडाउन से कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने को कामयाबी मिली है़  मरीजों की संख्या में कमी आने के कारण प्रशासन ने आखिरकार लाकडाउन में रियायत देने का निर्णय लिया़  अनलाक के पहले दिन ही शहर के मार्केट में भीड़ उमड़ पड़ी थी. 

    किराना खरीदी करने बाहर निकले लोग  

    लंबे समय के लाकडाउन की वजह से अनेक नागरिकों के घरों का किराना एवं राशन समाप्ति पर आ गया था़  इससे ज्यादातर किराना दूकानों में भीड़ दिखाई दी़  अब यह मार्केट की भीड़ धीरे-धीरे कम होने का अनुमान लगाया जा रहा है़ 

    शिवाजी महाराज चौक पर लगा जाम

    शहर में अमृत योजना का कार्य मेन रोड पर शुरू है़  मार्ग पर खुदाई का कार्य शुरू होने से कई जगह एक ही लेन से यातायात शुरू था. इससे कुछ देर तक शिवाजी महाराज चौक पर जाम लग गया था़  पश्चात ट्राफिक पुलिस द्वारा कुछ देर के लिए आर्वी तथा नागपुर रोड से आनेवाली ट्राफिक रविंद्रनाथ टैगोर मार्ग से डायवर्ट किया गया.  

    विविधा केंद्र में उमड़ी लोगों की भीड़

    लाकडाउन की वजह से केवल अत्यावश्यक कामकाज के लिए नागरिकों को बाहर निकलने की अनुमति दी गई थी, जिससे बैंक, कालेज तथा अन्य महत्वपूर्ण कार्य नागरिक नहीं कर पाए़  मंगलवार को विविध केंद्र में स्टाम्प खरीदी के लिए भीड़ उमड़ी थी़  

    जरूरी सूचनाओं का पालन करने नागरिक

    कोरोना का खतरा अभी भी टला नहीं है़  जिससे व्यवसायी, नागरिकों ने मास्क एवं कोरोना नियमों का कड़ाई से पालन करने की जरूरत है़  अन्यथा मरीजों की संख्या बढ़ने पर फिर से लाकडाउन लगाने की नौबत आ सकती है़  जरूरी सूचनाओं का पालन करें अन्यथा कड़ी कारवाई की जाएगी़ 

    -विपीन पालीवाल,CO, नप, वर्धा.