Mukutban Market, No Social Distancing (2)
File Photo

  • व्यवसायियों को ग्राहकों को इंतजार, लंबे समय बाद मिली राहत

वर्धा. कोरोना मरीज तथा अस्पतालों में उपलब्ध आक्सीजन बेड की संख्या ध्यान में रखकर जिले की अनलाक प्रक्रिया आरंभ हो गई है़ महीनाभर लाकडाउन के बाद आखिरकार सोमवार को बाजार खुलने वाला है, जिससे व्यवसायियों के साथ ही आम जनता में हर्ष की लहर है़ वहीं पिछली बार की तरह इस बार भी अगर लापरवाही बरती गई तो निश्चित ही तीसरी लहर घातक साबित होगी़ इससे मास्क, सोशल डिस्टेसिंग आदि कोरोना नियमों का कड़ाई से पालन किए जाने की आम राय व्यक्त की जा रही है.

अनलाक के निर्णय का स्वागत

कोरोना के केसेस घटने से सरकार द्वारा जिले को अनलाक करने लिए गए निर्णय का स्वागत है़  लेकिन वीकेंड लाकडाउन पर भी विचार होना चाहिए़  सरकारी कर्मचारियों को इसी दिन समय मिलता है़  साथ ही समय बढ़ाया तो बाजार में भीड़ कम होगी. 

-अतुल फटिंग, संचालक-प्रभात टायर्स एंड सर्विसेस

व्यवसायियों की परेशानी होगी दूर

लाकडाउन के कारण छोटे व्यवसायी, मजदूर सभी के सामने आर्थिक संकट निर्माण हो गया था़  दूकानें खुलने से सभी की परेशानी दूर होगी़  अस्पतालों में बेड तथा मरीजों की संख्या ध्यान में रखकर लिया सरकार का निर्णय सराहनीय है. 

-अनिल राठी, व्यवसायी.

सभी के हित में लिया गया निर्णय

लाकडाउन के कारण आमजन प्रभावित हुए है, जिससे जल्द से जल्द लाकडाउन हटाने की जरूरत थी़  सरकार ने सोचसमझकर लिया हुआ निर्णय सभी के हित का है़  इससे सभी को आर्थिक रूप से बल मिलेगा.  

-गोविंद टावरी

दूकानों का समय बढ़ाना चाहिए

अनलाक की प्रक्रिया आरंभ हो गई है़  दूकानें शुरू रखने के लिए सुबह 7 से शाम 4 बजे तक समय दिया है़  इतनी सुबह दूकानों में ग्राहक नहीं आते है, लेकिन 11 बजे तथा दूकानें बंद होने के समय भीड़ होती है, जिससे समय बढ़ाने की जरूरत है़  साथ ही सब्जी एवं फल विक्रेताओं को अलग से जगह उपलब्ध करने की जरूरत है, जिससे भीड़ नियंत्रित होकर कोरोना फैलाव नहीं होगा.  

-कन्हैया शर्मा, व्यवसायी.

समय में बदलाव करना आवश्यक

प्रशासन ने सोमवार से व्यापार के लिये जो समय दिया है. उसमें बदलाव करना आवश्यक है. सुबह 7 से शाम 4 की जगह सुबह 9 से शाम 7 बजे तक का समय देना चाहिए. कपड़ा व्यवसाय का मौसम इस वर्ष भी गया है. अप्रैल व मई में पाबंदियों के कारण व्यवसाय प्रभावित हुआ है, उसे भरा नहीं जा सकता.

-पंकज चितलांगे, कपड़ा व्यवसायी.

व्यवसाय का समय बढ़ाना जरूरी

प्रशासन ने दिया हुआ समय व्यापार के लिये प्रतिकूल नहीं है. प्रशासन ने दूकानों के लिये सुबह 10 से शाम 7 बजे का समय करना चाहिए. नौकरीपेशा के साथ मजदूरी व अन्य काम करने वाले व्यक्ति 5.30 बजे के बाद भी मार्केट में आते है. दूकानें शाम 4 बजे बंद होने से वह खरीदी नहीं कर पायेंगे. सुबह 10 बजे तक मार्केट में सन्नाटा रहता है. प्रशासन ने इस बात की ओर ध्यान देना चाहिए.

-अभिजित श्रावणे, कपड़ा व्यापारी.

आम जनता को मिलेगी राहत

लगातार लाकडाउन की वजह से आम जनता को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा था़  कोरेाना नियमों में ढिलाई देने से सभी को राहत मिली है़  अब धीरे-धीरे अर्थव्यवस्था पटरी पर आएगी.  

-रवि संगतानी, व्यवसायी.