Holi Dahan

    वर्धा. जिले में कोरोना के फैलाव को देखते हुए 60 घंटे का कर्फ्यू लागू किया गया है़ परिणामवश रविवार को सार्वजनिक स्तर पर होलिका दहन पर पाबंदी के बावजूद कुछ स्थानों पर नियमों का उल्लंघन किया गया. सार्वजनिक रूप से कुछ स्थानों पर होलिका दहन कर नियमों का उल्लंघन किया गया. वहीं अधिकाश स्थानों पर नागरिकों ने प्रशासन के आह्वान को प्रतिसाद देते हुए घरों में ही छोटी होली जलाकर पूजा अर्चना की़ प्रति वर्ष होली का त्योहार बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है.

    रंगों के इस त्योहार पर इस बार कोरोना संक्रमण का संकट मंडराया है. कोरोना की दूसरी लहर ने जिले पर कहर ढाया है़ परिणामवश प्रशासन को सख्त कदम उठाने पड़े. होली यह सार्वजनिक त्योहार होने से नागरिक बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है. इससे नागरिकों की भीड़ होकर कोरोना का फैलाव बढ़ने का डर है़ परिणामवश जिलाधिकारी ने कर्फ्यू लागू कर दिया़ साथ ही सार्वजनिक तौर पर होलिका दहन न करने की अपील जनता से की गई़ इसे अधिकांश स्थानों पर प्रतिसाद देते हुए नागरिकों ने अपने घरों में ही छोटी होली जलाकर पूजा अर्चना की.

    बालगोपालों में छायी रही मायूसी

    उल्लेखनिय है कि सोमवार को रंगपंचमी यह विशेष कर बालगोपालों के लिए खुशी व उमंग लेकर आती है़  इस दिन बच्चे विविध रंगों से खेलते है़  एकदूसरे को रंग लगाकर होली का पूरा आनंद लेते है़  परंतु इस बार कोरोना संकट के कारण रंगपंचमी नहीं खेली जाएगी़  इससे बालगोपालों में मायूसी छायी हुई है. 

    निर्देशों का हुआ उल्लंघन

    जिले में कर्फ्यू के दौरान सार्वजनिक ठिकानों पर होलिका दहन न करने के निर्देश दिये गए थे़  बावजूद इसके शहर व ग्रामीण क्षेत्र में कुछ ठिकानों पर निर्देशों का उल्लंघन करते हुए नागरिक होलिका दहन करते दिखाई दिए.