Construction workers
File Photo

  • 2 चरणों में निधि का वितरण: कलेक्टर देशभ्रतार

वर्धा. जिलाधिकारी प्रेरणा देशभ्रतार ने कहा कि महाराष्ट्र इमारत व अन्य बांधकाम मजदूर कल्याणकारी मंडल के अंतर्गत पंजीकृत मजदूरों को विविध योजनाओं का लाभ दिया जाता है़ कोरोना संकट काल में बांधकाम मजदूरों के हाथ को काम नहीं था़ इस स्थिति में सरकार ने मजदूरों को प्रथम चरण में 2 हजार रुपये के अनुसार 47 हजार 781 मजदूरों को 9 करोड़ 55 लाख 62 हजार रुपए व दूसरे चरण में 3 हजार के हिसाब से 46 हजार 540 मजदूरों को 13 करोड़ 96 लाख 20 हजार सहित कुल 23 करोड़ 51 लाख 82 हजार रुपए का निधि बैंक खातों में जमा किया है.

कोरोना काल में आर्थिक सहायता से मजदूरों को राहत देने का काम सरकार ने किया़ इससे मजदूर व उनके परिवार को काफी मदद मिली है़ मजदूरों के लिए सरकारी योजना राहत देने वाली है. जिला सरकारी मजदूर अधिकारी कार्यालय के अधिनस्थ महाराष्ट्र इमारत व अन्य बांधकाम मजदूर कल्याणकारी मंडल द्वारा मजदूरों के कल्याणार्थ विविध कल्याणकारी योजना चलायी जाती है़ इसके तहत मजदूरों को आर्थिक सहायता दी जाती है.

कल्याणकारी मंडल ने दिया योजना का लाभ

जिले में इमारत व अन्य मजदूर कल्याणकारी मंडल के अंतर्गत 96 हजार 67 का पंजीयन हुआ है. इसमें सक्रिय, जीवित पंजीयन वाले 42 हजार 799 मजदूर है़  साथ ही 34 हजार 218 पंजीकृत मजदूरों ने नवीनीकरण किया है. नवीनीकरण किये गए 4 हजार 343 मजदूरों को गृहपयोगी वस्तुओं की खरीदारी के लिए 3 हजार रुपये के हिसाब से 1 करोड़ 30 लाख 29 हजार रुपए, औजार खरीदी के लिए 23 हजार 134 मजदूरों को 5 हजार के हिसाब से 11 करोड़ 56 लाख 70 हजार रुपयों का लाभ दिया गया. मंडल के माध्यम से विविध कल्याणकारी योजना अंतर्गत  पंजीयन व पात्र होने वाले 1 लाख 94 हजार 353 बांधकाम  मजदूरों को 54 करोड़ 17 लाख 400 रुपयों का लाभ मजदूरों के बैंक खाते में जमा किये गए़  41 हजार  938 सुरक्षा संच व 2 हजार 376 को स्वास्थ्य जांच लाभ दिया गया़  

नए सिरे से आनलाइन पंजीयन की सुविधा

मंडल के माध्यम से 23 जुलाई 2020 से बांधकाम मजदूरों को मंडल संबंधित पंजीयन, नवीनीकरण, लाभ वितरण आदि कामकाज के लिए आनलाइन प्रक्रिया शुरू की गई है. मजदूर पंजीयन के लिए www.mahabocw.in  संकेतस्थल पर आवेदन पेश कर सकते है. जिले में 4 हजार 63 आनलाइन पंजीयन  किये गए मजदूरों में से 1 हजार 34 मजदूरों को पहचानपत्र व नवीनीकरण रसीद दी गई है. फिलहाल 7 हजार 72 पंजीयन व 1 हजार 861 नवीनीकरण के आवेदन मंजूर किये गए है. जिन मजदूरों को आवेदन मंजूरी की सूचना प्राप्त हुई है, ऐसे मजदूर शीघ्र आनलाइन प्रणाली में संलग्न किये गए कागजात की जांच मंडल के दफ्तर में जाकर कराने का आह्वान मजदूर अधिकारी तथा महाराष्ट्र इमारत व अन्य बांधकाम महामंडल के जिला कार्यकारी अधिकारी कौस्तुभ भगत ने किया है.