युवक ने दिया ईमानदारी का परिचय

वर्धा. इस जमाने ईमानदारी अब भी जिंदा है, इसका परिचय एक समाजसेवी युवक ने दिया़ जानकारी के अनुसार येसंबा (गोजी) निवासी गोलू नमरता नामक युवक किसी काम से वर्धा आया था़ इस दौरान उसका पॉकीट कही गुम हो गया़ सोमवार की दोपहर 3.30 बजे महादेवपुरा स्थित महादेव मंदिर के पास प्रशांत वाकचौडे को पॉकीट दिखाई दिया.

पॉकीट में मिली आधारकार्ड की जेरॉक्स पर एक नंबर मिला़ संपर्क करने पर उक्त नंबर गोलू के मित्र निकला़ उसने इसकी जानकारी गोलू को दी़ पश्चात गोलू से संपर्क कर प्रशांत वाकचौडे ने उसे पॉकीट लौटा दिया़ पॉकीट में एटीएम कार्ड, आधार कार्ड, महत्वपूर्ण डाकुमेन्ट व राशी थी़ प्रशांत वाकचौडे के कार्य की अनेको ने प्रशंसा की़