arrest

आर्वी. गोह की हत्या कर उसे भुनकर तास्करी करने के मामले में वनविभाग ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है़ उक्त मामला बेढोणा परिसर में सामने आया़ फिलहाल तीनो को एक दिन की वनकस्टडी में रखा गया है़ 

प्राप्त जानकारी के अनुसार बेढोणा परिसर में गोह (घोरपड) की तस्करी का मामला उजागर हुआ़ इस प्रकरण में संदेह के बिना पर वनविभाग ने बेढोणा निवासी तीन लोगों को हिरासत में लिया है़ परंतु ग्रामीणों के अनुसार तीनों प्रकरण में दोषी नहीं है़ संदिग्धो में पंजाब श्रावण सनिसे, रामदास लक्ष्मण सावंत व सुरेश उत्तम सावंत का समावेश है़ दो गोह की हत्या कर उसे भुना गया़ पश्चात नाले के किनारे एक प्लैस्टीक की थैली में रख दिया़ वनविभाग की टिम ने घटनास्थल से थैली में गोह का मांस जब्त कर लिया है.

इतना ही नहीं तो दो सत्तुर भी बरामद कर लिए़ फिलहाल आरोपियों के खिलाफ वन्यजीव संरक्षक अधिनियम 1972 के तहत मामला दर्ज कर लिया है़ तीनों को प्रथम श्रेणी न्यायालय में पेश किया गया़ जहां उन्हें एक दिन की वनकस्टडी सुनाई गई़ इस कार्रवाई को उपवनसंरक्षक सुनील शर्मा के मार्गदर्शन में वनपरिक्षेत्र अधिकारी एन.एस़ जाधव के नेतृत्व में वनपाल डेहनकर, कावले, नितनवरे, वनरक्षक गजभिये व कर्मियों ने अंजाम दिया़ इसके पूर्व भी परिसर में गोह तस्करी का मामला उजागर हुआ था़ गोह का तेल काफी महंगा बेचा जाता है़ इसके लिए शिकारी गोह की हत्या कर तस्करी करते है़ पुछताछ में अन्य महत्वपूर्ण जानकारी उजागर होने की संभावना वनविभाग ने जताई है़