विराजी मातारानी : ना ढोल ना ताशा, जयघोष से गुंजा शहर

  • अनेक मंडलों ने की कलशस्थापना
  • भाविको में उत्साह कायम

वर्धा. शनिवार से शारदिय नवरात्र प्रारंभ हुआ है़ इस बार कोरोना के साये में यह उत्सव मनाया जा रहा है़ बिना किसी ढोल ताशे के जगह जगह मातारानी की विधिवत स्थापना हुई़ कोरोना संकट के बावजुद भी दुर्गोत्सव को लेकर भाविकों का उत्साह कायम दिखाई दिया़ सरकारी नियमों का पालन करते हुए अनेक दुर्गा मंडलों ने केवल कलशस्थापना ही की़ दिनभर चले जयघोष से शहर गुंजायमान हो गया था़ नवरात्रि के पहले दिन मार्केट में चहलपहल देखने मिली़ सुरक्षा की दृष्टी से पुलिस ने जगह जगह बंदोबस्त रखा था़ 

जिले का शारिदय नवरात्रि उत्सव विदर्भ ही नहीं अपितु पुरे राज्य में प्रसिध्द है़ पुरे नौ दिन जिले में मानो संपुर्ण देवालय ही उतर आया हो़ प्रतिवर्ष आकर्षक रोषणाई, भव्य दुर्गा पेंडाल, देखावे, झांकियां आकर्षण का केंद्र रही है़ परंतु इस बार देश व राज्य में कोरोना ने हाहाकार मचा रखा है़ ऐसे स्थिति में सरकार ने दुर्गोत्सव सादगी से मनाने का आवाहन किया़ साथ ही सभी दुर्गा मंडलों के गाईडलाईन जारी की़ वर्धा शहर सहित जिले के विविध हिस्सो में दुर्गा प्रतिमा की विधिवत स्थापना की गई़ कोरोना संकट के कारण शहर के दुर्गा मंडलों ने छोटे पेंडालों का निर्माण किया़ अधिक रोषणाई न करने का निर्णय लिया गया़ सुबह से ही शहर में एक एक कर मातारानी की पुर्जाअर्चा के बाद विधिवत स्थापना की गई़ वर्तमान स्थिति को देखते हुए अनेक मंडलों ने इस बार दुर्गा प्रतिमा बिठाने की बजाए केवल कलशस्थापना करने का निर्णय लिया़ शहर के अनेक मुर्तिकारो के यहां से दुर्गा प्रतिमा ले जाने दुर्गा मंडलों के सदस्य पहुंचे़ इस दौरान अधिक भीड न हो, इस ओर ध्यान दिया गया़ बिना किसी ढोल ताशे के केवल जयघोष से अम्बेरानी का स्वागत किया गया़ कोरोना संकट के होते हुए भी दुर्गोत्सव को लेकर भाविकों के उत्साह में कोई कमी दिखाई नहीं दे रही थी़ पुरे भक्तिभाव से माता रानी के आगमन की तैयारियों में भक्त जुटे दिखाई दिए़ 

बाजार में दिखी चहल-पहल

कोरोना संकट के बावजुद भी नवरात्रि के पहले दिन खरिदारी के लिए नागरिकों की मुख्य बाजार में चहल पहल दिखाई दे रही थी़ पुजाअर्चा की सामग्री खरिदने के लिए नागरिक बाजार में भीड कर रहे थे़ इस दौरान दुर्गा मंडल के सदस्य भाविकों को सोशल डिस्टेन्स रखने पर बार बार सूचना करते नजर आये़ 

जगह-जगह पुलिस बंदोबस्त

नवरात्रि उत्सव को ध्यान में रखते हुए मुख्य बाजार में अधिक भीड न हो इस लिए जगह जगह पुलिस बंदोबस्त तैनात किया गया था़ इसके अलावा पुलिस के पेट्रोलिंग दस्ते मुख्य सडक, बाजार परिसर में घुमते दिखाई दिए़ नागरिकों को भीड न करने का आवाहन किया जा रहा था़ 

नहीं लगेगे लंगर

स्थानीय दुर्गोत्सव लंगर, महाप्रसादी व भंडारे के लिए भी प्रसिध्द है़ सभी नौ दिन शहर में विविध सामाजिक संगठन व दुर्गा मंडलों द्वारा भव्य लंगर, महाप्रसादी का आयोजन किया जाता है़ परंतु इस बार कोरोना के कारण इन सब का आनंद भाविक नहीं उठा पायेगे़ भीड टालने व कोरोना का संक्रमण न फैले इस लिए यह निर्णय लिया गया है़