विशाल मोर्चा ने कलेक्ट्रेट पर दी दस्तक, समुद्रपुर व सेलु में चक्काजाम

  • सांसद निवास समक्ष बिल की होली
  • जिले में शतप्रतिशत सफल रहा बंद

वर्धा. दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को भारत बंद का ऐलान किया गया था़ इसी तर्ज पर वर्धा में विशाल मोर्चा ने जिलाधिकारी कार्यालय पर दस्तक दी़ समुद्रपुर, सेलु, वर्धा व पुलगांव में चक्काजाम किया गया़ इससे मार्ग की यातायात अवरुध्द रही़ वहीं युवा परिवर्तन की आवाज संगठन ने सांसद निवास के समक्ष कृषी बिल की प्रतिकात्मक होली जलाई़ तहसीलस्तर पर भी मोर्चे निकाले गए़ कुलमिलाकर जिले में शतप्रतिशत बंद सफल रहा़ 

एपीएमसी कानून, अत्यावश्यक वस्तू कानून व निजी व्यापारी ठेकेदारों को अनिर्बंध खेती करने के लिए सहुलियत इन तीन कानून के खिलाफ दिल्ली में पिछले बाहर दिनों से किसानों का आंदोलन चल रहा है़ इसके समर्थन में भारतबंद का ऐलान किया गया था़ मंगलवार, 8 दिसंबर को महाविकास आघाडी सहित विविध सामाजिक, शैक्षणिक व राजनीतिक संगठनो ने शहर में विशाल मोर्चा निकाला़ स्थानीय छत्रपति शिवाजी महाराज चौराहे से निकले मोर्चा ने कलेक्ट्रेट पर दस्तक दी़ इस दौरान केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार घोषणाबाजी की गई़ मोर्चा को डा़ बाबासाहेब आंबेडकर प्रतिमा परिसर में रोका गया़ परिसर में पुलिस का तगडा बंदोबस्त रखा गया था़ शिष्टमंडल ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति तथा प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन भेजा़ कृषी बिल शीघ्र रद्द किया जाए, ऐसी मांग ज्ञापन में की गई़ मोर्चा में सभी दल व सामाजिक संगठनो ने पदाधिकारी, कार्यकर्ता शामील थे़ दिनभर शहर के व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे़ अत्यावश्यक सेवा के लिए दवाईयो की दूकाने शुरु रखी गई थी़ बंद को शहर में शतप्रतिशत प्रतिसाद मिला़ 

सात कार्यकर्ता हिरासत में

दूसरी ओर युवा परिवर्तन की आवाज संगठन के अध्यक्ष निहाल पांडे के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सांसद रामदास तडस के निवास पर दस्तक दी़ जहां उन्हें ज्ञापन सौंपने के बाद कार्यकर्ताओं ने कृषि बिल की प्रतिकात्मक होली जलाई़ इस दौरान उपस्थित पुलिस कर्मियो ने संगठन के सात कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया़ इस दौरान संगठन के निहाल पांडे, सोनू दाते, हेमंत भोसले, पूर्वेस मानकर, अक्षय बालसराफ, आदेश इंगोले, बॉबी कींनाके, तेजस येखंडे, सौरभ मेश्राम, अभिजित कठाने, शाम साटोने सहित अन्य उपस्थित थे़ देवली में भी संगठन के कार्यकर्ताओं ने कृषि बिल की प्रतिकात्मक होली जलाई़ 

नागपुर-हैद्राबाद मार्ग पर रास्तारोको

समुद्रपुर. नागपुर-हैद्राबाद राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 7 पर शेडगांव चौराहे पर प्रहार जनशक्ती पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आधे घंटे तक रास्तारोको आंदोलन किया़ इससे मार्ग की यातायात अवरुध्द हो गई थी़ इस दौरान समुद्रपुर पुलिस ने घटनास्थल पहुंच कर आंदोलनकारियों को हिरासत में लिया़ इस आंदोलन में राकां, कांग्रेस, शिवसेना व विविध संगठन के कार्यकर्ता भी शामील हुए थे़ इस दौरान राकां के प्रदिप डगवार, प्रहार के प्रमोद म्हैसकर, कांग्रेस के विनोद हिंवज, शिवसेना के रविंद्र लढी, बि. एस. पीचे, अमीत वासनिक, राजु उमरे, संदिप चांभारे, आकाश झाडे, पेटकर, सौरभ सालवे, शांतीलाल गांधी, रविंद्र झाडे, मंगेश चिताडे, कैलास जाधव, सौरभ आत्राम, रवि घोटे, नितेश भोंमले, हंसराज बेलखोडे, दाबणे गुरुजी, मंगेश हाडके, मोहन नागापुरे, यश घुंगरे, गजानन शेडमाके, करन झाडे, दिनेश गलांडे, विष्णु खरात, रेखा तेलतुंबडे, रोकडे, अर्चना मोरे, अश्वीनी महाकालकर सहित अनेकों की उपस्थिती थी़ 

सेलु में चक्का जाम

सेलु. सेलु में सामाजिक, राजकीय व परिवर्तनवादी संगठनों ने सेलु में बंद को सफल बनाया़ वहीं नागपुर-तुलजापुर महामार्ग पर चक्काजाम आंदोलन किया़ एक घंटे तक चले इस आंदोलन से मार्ग के दोनो छोर वाहनो की लंबी कतारे लग गई थी़ आंदोलन में कांग्रेस के प्रदेश सचिव शेखर शेंडे, शिवसेना के जिलाप्रमुख अनिल देवतारे, प्रवीण हिवरे, इन्‍द्रपाल सराफ, राजेश जयस्वाल, नीलिमा दंडारे, विद्याधर वानखेडे, रामकृष्ण उमाटे, सुनील पारसे, प्रशांत झाडे, अनिकेत उराडे, नरेंद्र अग्रवाल, सतीश धोपटे, सौरभ शेलके, अशपाक सय्यद, मुन्ना देवतारे, अबू बेरा, रवी वैरगडे, शैलेश पेटकर, दिलीप भजबुजे, रामू पवार, विनोद लीडबे, तुकाराम गरड, बाबाराव उडान, पंकज तलवारे, गणपत वंदिले सहित किसान, मजदूर, व्यापारी शामील हुए थे़ नायब तहसीलदार आदेश डफर ने मार्ग पर ही मांगों का ज्ञापन स्विकारा़ 

बंद रहे प्रतिष्ठान

किसान आंदोलन के समर्थन में 8 दिसंबर को भारत बंद आंदोलन हुआ़ इसें वर्धा में अच्छा प्रतिसाद मिला़ शहर के व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान दिनभर बंद रखे़ वहीं तलेगांव (श्यापं.) में व्यापारियों ने शतप्रतिशत प्रतिष्ठाण बंद रखकर आंदोलन में हिस्सा लिया़ 

वडनेर में निकला मोर्चा

वडनेर. स्थानीय आंबेडकर चौराहे से सुबह 11 बजे सर्वपक्षीय मोर्चा निकाला गया़ इस दौरान गांव के सभी प्रतिष्ठान बंद रहे. मांगो का ज्ञापन थानेदार को दिया गया. आंदोलन में ग्रापं सदस्य गुरुदयाल सिंह जुनी, अजय ढोक, महेंद्र महाजन, पांडुरंग निंबालकर, राजीव मोरे, पंढरी शिवणकर, प्रफुल्ल देवतले, कृष्णा महाजन, विनोद वानखेडे, गणेश जयस्वाल, अमोल चंदनखेडे सहित बडी संख्या में किसान सहभागी हुए.

पुलगांव में शत-प्रतिशत बंद

पुलगांव. किसान आंदोलन के समर्थन में पुलगांव शहर का व्यापार पूरी तरह से बंद रहा. स्टेशन चौक में सभी विपक्षी दलों की ओर से सुबह 9 बजे रास्ता रोको आंदोलन किया गया. जिससे यातायात प्रभावित हुआ. शहर कांग्रेस अध्यक्ष सुनील ब्राम्हणकर, शिवसेना जिला प्रमुख बाला शहागडकर, वंचित बहुजन आघाडी के रवि खडसे, यशवंत भगत, बसपा के राजू लोकहरे, भीम आर्मी संगठन के अंकुश बोसे समेत मनीष साहू, श्याम देशमुख, पवन साहू, रमेश शर्मा, अतुल भार्गव, मिठाईलाल गुप्ता, नाना माहुरे, शब्बीर पठान, भगवान ठाकुर, प्रमोद खालनी, विजय भटकर, संजय दाबोडे, सोनु मेंढे, अश्विन शाह, गोविंद दैय्या, अविनाश श्रीराव, देवा सहारे सहभागी हुए. बंद के चलते स्टेट बैंक शाखा का कामकाज बंद रहा.

हिंगनघाट में सर्वपक्षीय मोर्चा

हिंगनघाट़  हिंगनघाट में शत-प्रतिशत बंद रहा. सुभाष चौक में सर्वपक्षीय मोर्चा एसडीओ कार्यालय पर निकाला गया. जहा मांगो का ज्ञापन नायब तहसीलदार विजय पवार को सौंपा गया. ज्ञापन सौंपते वक्त एड सुधीर कोठारी, पूर्व मंत्री अशोक शिंदे, राजू तिमांडे, दिवाकर गमे, आफताब खान, सुरेश मुंजेवार, बालू महाजन, राजू मंगेकर, ज्वलंत मून, अभिनंदन मुनोत, धनंजय बकाने, अमित चाफले, भूषण पिसे, तेजस तडस, पुंडलिक बकाने, बंडू लीहितकर, विक्रम देवगिरकर, विनोद झाडे, अनिल भोगाडे, श्याम पवार, राजेश धोटे, शकील अहमद, नकुल भाइमारे, पंकज पाके सहित बडी संख्या में किसान सहभागी हुए.

आर्वी में सर्वपक्षीय रैली

आर्वी. मंगलवार को आर्वी में बंद रखा गया. सर्वपक्षीय दलों ने एकसाथ आकर पूर्व विधायक अमल काले के नेतृत्व में शिवाजी चौक से तहसील कार्यालय तक रैली निकाली. इस आंदोलन में महाविकास आघाडी सहित विविध संगठन व प्रहार सोशल फोरम ने भी मांगो का ज्ञापन अधिकारियों की ओर सौंपकर कृषि बिल का विरोध किया. रैली में पूर्व विधायक अमर काले, धनंजय चौबे, राका विधानसभा अध्यक्ष गोपाल मरस्कोल्हे, संदीप पोटे, अभिजीत काले, अनंता झाडे, छोटू शर्मा, सुधीर वाकोडकर, ज्ञानेश्वर पडोले, प्रहार के बाला जगताप सहित बडी संख्या में पदाधिकारी सहभागी हुए.

कारंजा में तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

कारंजा-घा. कारजा में शतप्रतिशत बंद रखा गया़ किसान सभा, आशा वर्कर, अंगणवाडी सेविका, बचत समुह सेविका, व्यापारी संगठना, कांग्रेस-राष्ट्रवादी मजदूर संगठना एवं विद्यार्थियों ने भी बंद में हिस्सा लिया़ दोपहर 1 बजे एक तहसील कार्यालय पर मोर्चा ने दस्तक दी़ जहां तहसीलदार को मांगों का ज्ञापन सौंपा गया़ 

सिंदी-रे. में निकला मोर्चा

सिंदी-रे. महाविकास आघाडी के पदाधिकारियो ने बाजारपेठ बंद कर शहर से मोर्चा निकाला़ कांग्रेस के शहर अध्यक्ष प्रकाशचंद्र डफ के नेतृत्व में राकां के अध्यक्ष वसंत सिरसे, शिवसेना के मंगेश माहूर, मुन्ना शुक्ला, विविध सहकारी सोसायटी के अध्यक्ष अशोक कलोडे, खरिदी विक्री सह सोसायटी के अध्यक्ष आशिष देवतले, संचालक सुधाकर खेडकर, प्रा. अशोक कलोडे, ए.सी. कलोडे, अरुण बोगाडे, मो. इकबाल, अरुण झाडे, गजानन खंडाले, गजानन हांडे, नंदू घोडेस्वार, फिरोज बेरा, सुनील झिलपे ने मोर्चा में हिस्सा लिया था़ 

शत प्रतिशत बंद रहा देवली

देवली. दिल्ली में जारी किसान आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को देवली शहर शत-प्रतिशत बंद रहा. शहर में युवा संर्घष मोर्चा और ऑल इंडिया ट्रेड युनियन कांग्रेस आयटक ने संयुक्त रुप से मोर्चा निकाला. मोर्चा की शुरुआत अग्रवाल धर्मशाला परिसर की गई. मोर्चा में बडी संख्या में महिला, पुरुष किसान सहभागी हुए. किसानों के समर्थन में घोषणानाएं दी गई. पश्चात तहसील कार्यालय में जाकर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया. मोर्चा में पार्षद गौतम पोपटकर, प्रवीण कात्रे, किरण ठाकरे, गोपाल चोपड़े, रवि कात्रे, मुन्ना तिड़के, एकनाथराव कामले, इंजीनियर अशोक राऊत, सुनील लोखंडे, दिलीप उठाने, मनोहर पचारे, विजया पावडे, सुरेश गोसावी, वंदना कोड़नकर, शहर कांग्रेस कमेटी की ओर से कृषि उपज बाजार समिति के सभापति मनोहर राव खडसे, कृष्णकांत शेंडे, रहमान तवर, मोरेश्वर खोड़के, चंद्रकांत वाणी, सुरेश वैद्य सहभागी हुए. देवली में स्कूल, कॉलेज, मार्केट बंद रहा तथा शासकीय कार्योलयों में भी सन्नाटा दिखायी दिया. 

आष्टी में सर्पपक्षीय आंदोलन

आष्टी-श. किसान बिल के विरोध में आष्टी में सर्वपक्षीय आंदोलन किया गया़  मुख्य मार्ग पर रास्तारोको का  प्रयास आंदोलनकारियों ने किया़  आंदोलन में बडी संख्या में पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामील हुए थे़ प्रशासन के माध्यम से राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा गया़