wardha-curfew

  • चार दिन बंद के बाद बाजारों में बढी भीड, यातायात प्रभावित, संक्रमण बढने की संभावना

वर्धा. शहर के व्यापारी एसोसिएशन ने कोरोना की कडी तोडने चार दिन का जनता कर्फ्यू लगाया था. परंतु जैसे ही जनता कर्फ्यू खत्म हुआ वैसे ही अब मार्केट में जनता का सैलाब देखा जा रहा है. कुछ जगह स्थिति इतनी गंभीर है कि, यातायात पूरी तरह से बाधित हो गया है. परिणामवश चार दिन का जनता कर्फ्यू बेअसर साबित होकर कोरोना संक्रमण बढने की संभावना जताई जा रही है.

वर्धा के कुछ बडे व्यापारियों द्वारा 18 से 21 सितम्बर के दौरान जनता कर्फ्यू लगाया था. हालाकि की शहर का मुख्य मार्केट छोड अन्य जगह जनता कर्फ्यू को समर्थन नही मिला. परंतु मुख्य मार्केट बंद रहने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पडा. जिस कारण अब मंगलवार से मार्केट खुलते ही जनता सैलाब देखा जा रहा है. मार्केट में इतनी भीड है कि, वाहन निकालना तक मुश्किल हो गया है. जिससे कोरोना संक्रमण बढने की संभावना नकारी नही जा सकती.

शहर के व्यापारी बडे प्रमाण में संक्रमित निकलने से कोरोना की कडी को तोडने यह निर्णय व्यापारियों द्वारा लिया गया था. जिसे अनेक-छोटे बडे व्यापारी संगठन ने समर्थन भी दिया. लेकिन शहर के अधिकतर दूकाने खुली रही. परंतु अब गत दो दिन से बाजार में बढी भीड देखकर कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलने की बात नकारी नही जा सकती. अनेक जगहों पर यातायात पूरी तरह से बाधित होकर वाहन निकलना तक मुश्किल हो गया है.