wardha

  • करलगांव घाट से चार गिरफ्तार
  • सोना व नगद जब्त

वर्धा. शहर के मुख्य मार्ग पर स्थित मुत्तूट फाईनान्स कंपनी में दिनदहाडे रॉबरी की वारदात सामने आयी थी़ इस प्रकरण में कंपनी का प्रबंधक ही मास्टरमाईंड निकलने से खलबली मच गई़ वहीं दूसरी ओर यवतमाल जिले के करलगांव घाट परिसर से अन्य 4 आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर लिया़ सभी आरोपियों से 9 किलो 700 ग्रैम सोना, नगद जब्त कर ली गई है़ 

गुरुवार की सुबह 9 बजे पिस्तौल व चाकू का धाक बताते हुए लूटेरे ने मुख्य मार्ग पर स्थित मुत्तूट फाईनान्स कंपनी में रॉबरी को अंजाम दिया था़ इसके बाद आरोपी महिला कर्मी की दुपहिया लेकर फरार हो गया़ पुलिस ने कंपनी के सभी कर्मियों से पुछताछ शुरु कर दी़ इसमें प्रबंधक के जवाब टालमटोल होने से उससे कडी पुछताछ करने पर प्रकरण का पर्दाफाश हुआ़

इसी बिच आरोपी यह यवतामल की दिशा में जाने की भनक लगते ही पुलिस टिम यवतमाल के लिए रवाना हुई़ यवतमाल पुलिस की मदद से देरशाम करलगांव घाट परिसर से चार आरोपियों को हिरासत में लिया गया़ मुख्य लूटेरे ने महिला कर्मी की दुपहिया शहर थाना परिसर में खडी कर दी थी़ आरोपियों में मनीष गोलवे, कुणाल शेंदरे, जिवन गिरडकर व कुणाल आगासे का समावेश है़ चारो से लूटपाट का सोना व नगद जब्त की गई़ कंपनी का प्रबंधक महेश श्रीरंगे यही प्रकरण का मास्टरमाईंड होने की बात सामने आयी़ इसके पूर्व महेश यवतमाल के एक फाईनान्स कंपनी में कार्यरत था़ जहां पर हेराफेरी मामले में उसके खिलाफ मामला भी दर्ज है़