suspend

वर्धा. छात्रवृत्ति मंजूर करने 30 हजार रुपए की रिश्वत मांगनेवाले श्रमिक अधिकारी व चालक को नागपुर एसीबी की टीम ने 8 सितम्बर को रंगेहाथ पकडा था. इस प्रकरण में अब राज्य सरकार के अवर सचिव ने कार्रवाई करते हुए श्रमिक अधिकारी पवनकुमार धर्मा चव्हाण (33) को निलंबित कर दिया. इस संबंध में हाल ही में आदेश जारी किया गया.

उल्लेखनीय रहे कि, वर्धा निवासी व्यक्ति के दो पुत्रों को योजना में छात्रवृत्ति दिलाने के ऐवज में मजदूर अधिकारी पवनकुमार धर्मा चव्हाण (33) ने रिश्वत की मांग की थी़ इस काम के लिए 30 हजार रुपए देने की बात पक्की हुई़ इस संबंध में संबंधीत ने नागपुर एन्टी करप्शन ब्यूरो कार्यालय में शिकायत दर्ज की थी़ मामले की पुष्टी होने से तय समय पर जाल बिछाया गया़ 8 सितम्बर की शाम 5 बजे मजदूर अधिकारी के चालक ने रिश्वत की राशि स्विकारते ही एसीबी की टीम उसे रंगेहाथ धरदबोचा. दौरान हाल ही में राज्य सरकार के अवर सचिव शीतल निकम ने आदेश जारी करते हुए श्रमिक अधिकारी पवनकुमार धर्मा चव्हाण को निलंबित किया है.