पत्नी बनी दिवानी, पति बना हत्यारा- हाईवे पर घटी वारदात

  • सीसीटीवी मैं कैद हुआ हत्याकांड
  • आरोपी व मृतक यवतमाल के

वर्धा. पत्नी की दिवानगी ऐसी बनी कि, वह दोस्त के ही प्यार में डूबी़ यह बात पति को पता चलते ही उसके पैरोतले जमीन खिसक गई़ पत्नी की बेवफाई से  परेशान पति ने उसके प्रेमी को ही निर्ममता से मौत के घाट उतारने के बाद पत्नी का भी गला घोटने का प्रयास किया़ यही सनसनीखेज वारदात यवतमाल-नागपुर महामार्ग पर नागठाणा परिसर में धाबे के पास घटी़ संपुर्ण हत्याकांड परिसर में लगे सीसीटीव कैमेरे में कैद होने की जानकारी है़ हत्या को अंजाम देकर आरोपी पती फरार हो गया़ 

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक का नाम यवतमाल जिले के मोहा निवासी कैलास ढुमणे (31) बताया गया़ जबकि आरोपी का नाम कलंब निवासी विलास उर्फ बाल्या पुणेश्वर कासार (40) है़ सूत्रों के अनुसार आरोपी व मृतक दोनो किसी ईटभट्टी पर काम करते थे़ अच्छी जानपहचान होने से मृतक व आरोपी का घर आनाजाना था़ आरोपी की पत्नी व मृतक के बिच प्रेमसंबंध प्रस्तापित हुए़ किन्तु कुछ ही दिनों में उनकी दिवानगी इतनी बढी कि, इसकी भनक पति को लगी़.

आठ दिन पूर्व आरोपी की पत्नी कैलास के साथ वर्धा के शांतीनगर में किसी रिश्तेदार के यहां आयी थी़ यह बात पता चलते ही पति विलास भी शांतीनगर पहुंचा़ जहां उनसे मिलने के बाद तीनों ने धोत्रा (रेलवे) निवासी एक रिश्तेदार के यहां जाने का निर्णय लिया़ बुधवार की शाम 6.30 बजे तीनों छह साल की बच्ची को लेकर शांतीनगर से पैदल ही निकले़ तेज बारिश होने से सभी नागठाणा परिसर के हाईवे से सटे एक धाबे पर रुके़ बारिश न रुकने से धाबाचालक को उनपर तरस आया़ उसने उनके खानपान की व्यवस्था की़ पश्चात उन्हें शेखर मोटर्स के शेड में रुकने के लिए कहा़ उनके लिए चद्दर व खटिये की व्यवस्था कर दी़ देर रात्रि विवाहिता अपने बच्ची के साथ सो गई़ जबकि कैलास व विलास दूकान के शेड में सोये थे़.

इसी दौरान विलास के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था़ मध्यरात्रि 12.30 बजे दौरान सभी गहरी नींद ले रहे थे, तभी विलास ने एक बडा पत्थर उठाकर कैलास के सिरपर पटका़ इसमें कैलास की दर्दनाक मौत हो गई़ आवाज आने से पत्नी की नींद खुली़ तभी विलास ने गला दबाकर उसे भी मारने की कोशीश की़ किन्तु आवाज से परिसर में ही सो रहे बुजुर्ग चौकीदार की नींद खुलने से उसने आवाज लगाना शुरु कर दिया़ यह देख विलास वहां से फरार हो गया़ उसकी पत्नी भी वहां से निकल गई़ कुछ देर बाद महिला घटनास्थल पर अपने बच्ची के पास पहुंची़ धाबाचालक नरेश डेहनकर को पता चलते ही उसने यह बात रामनगर पुलिस को बताई़.

घटनास्थल पर उपविभागीय पुलिस अधिकारी पीयूष जगताप, थानेदार धनाजी जलक, एपीआई संजय मिश्रा सहित डॉगस्कॉड व फारेसिंग लैबी की टिम पहुंची़ घटनास्थल का पंचनामा कर शव पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया़ घटनास्थल से पत्थर जब्त किया़ रामनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी के तलाश में एक टिम रवाना कर दी है़ जबकि उसकी पत्नी से अधिक जानकारी ली जा रही है़ उल्लेखनिय यह कि, यह संपुर्ण हत्याकांड दूकान में लगे सीसीटीवी में कैद होने की जानकारी है़ आगे की जांच रामनगर पुलिस कर रही़