arrest

  • अन्य तीन को तीन माह कारावास, जिला न्यायालय का निर्णय

वर्धा. पूराने विवाद में पडोसी की हत्या करनेवाले आरोपी गजानन चंद्रभान नागपुरे को जिला न्यायाधीश श्रीमती मृदुला भाटिया ने उम्रकैद व पांच हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई. वही अन्य तीन आरोपियों को तीन वर्ष कारावास की सजा दी गई. आरोपियों में मंगेश नागपुरे, चंद्रभान नागपुरे, माधुरी नागपुरे का समावेश है. अन्य एक आरोपी मोरेश्वर सदाशिव मांढरे को सबूतों के अभाव में निर्दोष मुक्त किया गया.

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोनोरा ढोक निवासी भारत ठाकरे के घर समीप गजानन नागपुरे का परिवार रहता है. आरोपी का परिवार व फिर्यादी के बिच किसी कारण से विवाद हुआ था. इसी विवाद में 8 सितम्बर 2016 को सुबह 8 बजे के करीब फिर्यादी भारत गोविंद ठाकरे चाचा के घर के सामने बैठे हुए थे. उस वक्त मृतक गोविंद चंपतराव ठाकरे (50) रोड से पैदल जा रहे थे. दौरान मंगेश नागपुरे ने गोविंद ठाकरे के आंखो में मिर्चा पावडर फेका.

उस वक्त आरोपी गजानन नागपुरे ने चाकू से उनपर वार किए. जिसमें उनकी मौत हो गई. इस प्रकरण में जांच के बाद पुलिस निरीक्षक मुरलीधर बुराडे ने आरोपपत्र दाखिल किया. शासन की ओर से 16 गवाह जांचे गए. पैरवी अधिकारी के तौर पर अनंत रिंगणे ने काम संभाला. शासकीय अभियोक्ता जी वी तकाले ने युक्तिवाद किया. जिससे आरोप सिद्ध होने से गजानन नागपुरे को उम्रकैद व पांच हजार रुपए जुर्माना तथा अन्य आरोपियों को तीन माह की सजा सुनाई गई.