NSUI

    वर्धा. इंधन व जीवनावश्यक वस्तुओं की कीमतों में निरंतर वृद्धि होती जा रही है़  कोरोना के बाद केंद्र सरकार की नीतियों के कारण आम जनता को जीवन व्यापन करना कठीन होने का आरोप लगाते हुए सोमवार को महंगाई के खिलाफ युवाओं ने सड़क पर उतरकर केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध किया़  विद्यार्थी कांग्रेस की पदयात्रा में बड़ी संख्या में युवक उपस्थित थे़  लगभग 2 वर्ष से देश की जनता कोरोना परिस्थिति का सामना कर रही है.  

    कोरोना नियमों के कारण लोगों के व्यवसाय पर बुरा असर पड़ा है़  कई युवा बेरोजगार हुए है़  ऐसे में केंद्र सरकार ने उन्हें मदद दिलाने के बजाए निरंतर महंगाई बढ़ाकर और भी कमजोर किया जा रहा है़  महंगाई के कारण गृहिणियों का बजट बिगड़ गया़  नौकरी करने वालों से लेकर गरीब जनता सभी परेशान है़  केंद्र सरकार की नीति आम जनता के खिलाफ होने का आरोप आंदोलनकारियों द्वारा किया गया. 

    नारेबाजी करके किया ध्यानाकर्षण

    विद्यार्थी कांग्रेस की यह पदयात्रा छत्रपति शिवाजी महाराज पुतले से आरंभ हुई़  शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए बजाज चौक पर पदयात्रा का समापन किया गया़  महंगाई के खिलाफ बैनर हाथ में लेकर युवाओं ने जमकर नारेबाजी की़  आंदोलन में कांग्रेस के राष्ट्रीय समन्वयक आमिर नूरी, प्रदेश सचिव तथा जिला प्रभारी शुभम गभने, प्रदेश सचिव निखिल वानखेड़े, शहर कांग्रेस अध्यक्ष सुधीर पांगुल, जिलाध्यक्ष प्रतीक भोगे के नेतृत्व में जिला उपाध्यक्ष गोविंद दिघीकर, जिला महासचिव हिमांशु ठाकरे, जिला सचिव शंतनु लाखे, जिला संगठक गौरभ चांभारे, अफजल बेरा, पंकज इंगोले, नयन खंगार, विशाल हजारे आदि का समावेश था.   

    केंद्र के कृषि कानूनों का जताया निषेध

    बजाज चौक में 219 दिनों से शुरू किसान-कामगार आंदोलन को विद्यार्थी कांग्रेस के पदाधिकारियों ने अपना समर्थन जताकर कृषि कानूनों का निषेध किया़  केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों कानून किसानों के खिलाफ होने से वह रद्द करने की मांग की गई.