जिला अस्पताल में वर्ष 2020 में 2,193 महिलाओं की प्रसूती, वर्ष भर में तीन माताओं की मौत

    वाशिम. गर्भावस्था व प्रसव में माता की मौत के प्रमाण रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग के प्रयास शुरू है़  इस में अधिकतर सफलता भी प्राप्त हुई है़  लेकिन गंभीर अवस्था में मौत को टालना संभव नही होता है़  यहां के जिला सामान्य अस्पताल में वर्ष भर में तीन माता की मौत होने की जानकारी है़.

    गर्भावस्था रहते समय अथवा प्रसव के समय अस्पताल में उपचारार्थ दाखिल करने की जागरुकता नही रहना, अस्पताल में आते समय वाहन की सुविधा नही मिलना और अस्पताल में पहुंचने के लिए विलंब होना, अस्पताल में पहुंचने के बाद उपचार के लिए विलंब होना, ब्लड, शल्यक्रिया की समय पर सुविधा नही मिलना आदि माता की मौत के कारण होकर गर्भावस्था में गर्भपात करते समय अथवा प्रसूती समय रक्तस्त्राव होना, जंतुदोष के कारण शरीर में गंभीर बिमारी होना, अति रक्तचाप, गर्भपात, दुषित गर्भपात तथा अन्य कारणों से माता की मौत होने का स्वास्थ्य विभाग व्दारा बताया जाता है़.

    इस दौरान यहां के जिला सामान्य अस्पताल में वर्ष 2020 इस वर्ष में अप्रैल से दिसंबर तक के कालावधि में कुल 2,193 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 2,019 महिलाओं की प्रसूती नार्मल हुई तो 174 महिलाओं की प्रसूती सिजर हुई है़  इन में तीन माता की मौत हो गई है़  यहां के जिला सामान्य अस्पताल में गर्भवती महिलाओं की प्रसूती के लिए दाखिल होनेवाले महिलाओं का विशेष ध्यान रखा जाता है़  जिससे माताओं की मौत का प्रमाण कम है़ 

    अक्टूबर से सबसे अधिक प्रसूती  

    वर्ष 2020 के अक्टूबर महीने में जिला सामान्य अस्पताल में 279 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 261 महिलाओं की प्रसूती नार्मल हुई है तो 18 महिलाकों की प्रसूती सिजर हुई है़  इसी महीने में एक महिला की मौत हुई थी़  कुल 2,193 प्रसूती में गत अप्रैल महीने में कुल 218 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 193 की नार्मल तो 25 की सिजर प्रसूती हुई थी़  इस महीने में एक महिला की मौत हो गई थी़ 

    इसी प्रकार से मई महीने में कुल 222 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 196 की नार्मल तो 26 की सिजर प्रसूती हुई थी़  जून महीने में कुल 202 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 181 की नार्मल तो 21 की सिजर प्रसूती हुई थी़  जुलाई में कुल 233 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 215 की नार्मल तो 18 की सिजर प्रसूती हुई है़  अगस्त महीने में कुल 274 की प्रसूती होकर इन में से 263 की नार्मल तो 11 की सिजर प्रसूती हुई थी़.

    सितंबर में कुल 268 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 255 की नार्मल तो 13 की सिजर प्रसूती हुई थी़  अक्टूबर महीने में कुल 279 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 261 नार्मल तो 18 की सिजर प्रसूती हुई थी. इस महीने मे एक महिला की मौत हो गई थी़  नवंबर महीने में कुल 267 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 243 की नार्मल तो 24 की सिजर प्रसूती हुई है़  इस महीने में एक महिला की मौत हुई है़  दिसंबर में कुल 230 महिलाओं की प्रसूती होकर इन में से 212 की नार्मल तो बाकी महिलाओ की सिजर प्रसूती हुई है़