अकोला-नांदेड़ राजमार्ग में गए भूखंडों के मुआवजा देने की मांग

वाशिम. जिले से गुजरनेवाले अकोला से नांदेड महाराष्ट्र महामार्ग चौड़ाईकरण में अनेकों के भूखंड गए है़  इन भूखंड धारकों को मुआवजा मिलने के लिए एक निवेदन जिलाधिकारी को दिया. निवेदन में जिले से अकोला -नांदेड यह राष्ट्रीय महामार्ग क्रमांक 161 है़  ग्राम पंचाला के गट क्रमांक 229 में 1 से 78 अकृषक भूखंड गिरे हुए है़  मालिकों ने इस प्लॉट की बिक्री 1980 से 2000 तक की है. उसकी सरकारी पंजीयन करके रजिस्टर खरीदी खत से अनेकों ने प्लॉट खरीदी किए है़.

इन भूखंडों का पंजीकरण तत्कालीन पटवारी ने किया था़  जिसमें अनेक प्रकार की गलतियां हुई है़  गट क्रमांक 229 के अनेक भूखंड इस राष्ट्रीय महामार्ग भूसंपादन में है़  लेकिन इस के संबंध में कोई भी जानकारी प्रशासन की ओर से नही दी गई है. इस के संबंध में जमीन मालिकों ने अनेकों बार निवेदन दिए, लेकिन अब तक कुछ भी हासिल नही हुआ़  जिले से गुजरने वाले अकोला से नांदेड महाराष्ट्र महामार्ग चौड़ाईकरण में अनेकों के भूखंड गए है़.

 इन भूखंड धारकों को मुआवजा मिलने की मांग की गई है़  इन भूखंड धारकों को तथा उनके मालिक को सरकार की ओर से गलत पंजीयन करने से मालिकों पर अन्याय न होने के लिए निवेदन अपर जिलाधिकारी शरद पाटिल को दिया. निवेदन देने वाले शिष्टमंडल के साथ किसी भी तरह का अन्याय नही होगा यह बताया. इस अवसर पर सरपंच कालीदास भोयनवाड विश्वास वाल्ले, मोहम्मद रफिक, डा. अग्रवाल, मुन्ना गोरे, अब्दुल खालिक, नीलेश सोमानी, मोहम्मद सिकंदर बेग आदि उपस्थित थे.