Fight-clash-Bihar

    वाशिम.  मालेगांव के वरिष्ठ वकील सुदर्शन गायकवाड़ की पुलिस द्वारा पिटाई करने से वाशिम विधिज्ञ मंडल ने तीव्र निषेध दर्ज किया है़  इस प्रकरण के दोषी अधिकारी पर शीघ्र कार्रवाई करने की मांग की गई है़  जिला विधिज्ञ मंडल की अध्यक्षा एड.छाया मवाल व सचिव एड.नामदेव जुमड़े के नेतृत्व में जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, पालकमंत्री, पुलिस महासंचालक, पुलिस महानिरिक्षक, बार एसो. के राज्य के सभी पदधिकारी तथा विरोधी पार्टी के नेता को निवेदन भेजा गया है़.

    निवेदन पर जिला विधिज्ञ मंडल के पदधिकारी के साथ जिले भर के वकीलों के हस्ताक्षर हैं. निवेदन में कहा गया है कि, वरिष्ठ वकील सुदर्शन गायकवाड़ की पिटाई के संदर्भ में जिला विधिक्ष मंडल ने एक बैठक आयोजित करके चर्चा की व एकमत से निषेध का प्रस्ताव पारित किया.

    पुलिस अधीक्षक के वाहन को ओवरटेक करने पर संक्रमक रोगो का कारण बताकर मालेगांव पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक सोनोने व अन्य आठ से दस पुलिस कर्मियों ने एड.सुदर्शन गायकवाड़ को उनके घर में जाकर उनको व उनके परिवारवालों की निर्ममता के साथ पिटाई की व उनके विरोध में मालेगांव पुलिस थाने में विविध धाराओं के तहत मामला दर्ज किया़.

    इस बीच एड.गायकवाड़ ने दी रिपोर्ट अधिकारियों ने फाड़कर फेंक दी व गालीगलौच की़  इस घटना का जिला विधिज्ञ मंडल ने निषेध कर दोषियों को तत्काल निलंबित करने की मांग की़  इसी तरह घटना की जांच सीबीआई या पुलिस महानिरीक्षक की ओर देने की मांग निवेदन में की गयी है.