जिला नर्मितिी के 21 वर्ष के बाद भी

वाशिम. दिन ब दिन बढ रही जनसंख्या के साथ वाहनो की संख्या मे भी भारी वृध्दी हो रही है़ नियमित रुप मे वाहनो की संख्या मे हो रही वृध्दी व बढते अतक्रिमण से मुख्य मार्गपर की यातायात सतत प्रभावीत हो रही है़

वाशिम. दिन ब दिन बढ रही जनसंख्या के साथ वाहनो की संख्या मे भी भारी वृध्दी हो रही है़ नियमित रुप मे वाहनो की संख्या मे हो रही वृध्दी व बढते अतक्रिमण से मुख्य मार्गपर की यातायात सतत प्रभावीत हो रही है़ जिस से वद्यिार्थियो को ,वृध्द महिला ,पुरुषो को तथा वाहन धारको को इन मार्गो पर जाने आने के लिए भारी कसरत करना पड रही है़ वाशिम जिला नर्मिीती के 21 वर्ष के कालावधी हो चुका है़ लेकीन शहर के मुख्य  मार्गपर सग्निल नही लगने से यातायात की समस्या अधिक जटील हो रही है़ यातायात जाम होना यहा पर अब आम बात हो गई है़ एखादे व्यक्ती को महत्वुपर्ण काम से जाना हो अथवा किसी मरिज को अस्पताल ले जाना हो तो कई बार ट्रैफीक जाम से होनेवाले विलंब से विविध समस्या का सामना करना पडता है़.

शहर के प्रमुख पाटणी चौक,बालु चौक,मणप्रिभा होटल चौक , अकोला नाका चौक, पुलिस स्टेशन चौक,पुसद नाका चौक,हिंगोली नाका चौक ,डा. बाबासाहेब आंबेडकर चौक आदी मार्गपर सतत वाहनो का लगातार आवागमन रहने से यातायात जाम की स्थिती सदैव बनी रहती है़ सबेरे 10 बजे व शाम 5.30 बजे दरम्यान जब स्कुल ,कालेज जाने का व आने का समय होता है़ तो यहा पर अधिक भीड हो जाती है़ ऐसे मे इन मार्ग से रस्ता क्राँस करना किसी कसरत से कम नही होता.

विशेषता मे बस  स्टन्ड से पुसद नाका की ओर जानेवाले मार्ग के बाजु मे अनेक अस्तताल ,दुकाने ,होटल है़ इस मार्ग पर जब कोई व्यक्ति अपस्ताल से अथवा दुकान ,होटल से अपने वाहन से  अथवा पैदल मेन रोड पर आने लगता है तो उसे मुख्य मार्ग की दोनो दिशा से आने, जानेवाले वाहनो से बचकर निकलने के लिए भारी कसरत करनी पडती है़ जिस से इस मार्ग पर आना जाना कीसी कठीनाई से कम नही होता़ अनेक बार इस मार्ग पर छुटपुट घटना हो चुकी है़ तो बडी दुर्घटना की संभावना बनी रहती है़ लोगो का मानना है़ यदी पुसद नाका,पुलिस स्टेशन पर सग्निल लगाए जाए तो यहा पर कुछ समय तक एक ओर की वाहने सग्निल लगने से रुक कर केवल एक ही दिशा मे देखकर मुख्य मार्ग पर आने के लिए आसानी हो सकती है़

वाहनो की लगती ही कतारे
यातायात की कठिनाई शहर के उपरोक्त स्थानोपर होने से इन मार्गपर जगह जगह पर वाहनो की कई बार कतारे लगी रहती है़ इस मे रेलवे स्टेशन पर ट्रेने के आने जाने के समय पर पुसद नाका व हिंगाली रोड पर का रेलवे गेट बंद रहता है़ लेकीन जब रेलवे गेट खुल जाता है़ तो पुसद नाका ,हिंगोली नाका पर वाहनो की एक साथ ही भीड होकर वाहनो की कतारे लग जाती है़  यह समस्या अब रोज मर्रा हो गई है़ इसमे भी साप्ताहीक बाजार रविवार के दिन तो हिंगोली नाका ,पाटणी चौक से रस्ता पार करना मुश्कील हो जाता है़ शहर के मुख्यमार्ग पर व मुख्यचौको परिसर मे सडक किनारे अतक्रिमण धारको ने अपना कब्जा करने से व सडको पर अस्ताव्यस्त वाहन पार्कींग से यातायात का मार्ग संकुरा बन गया है़ जिस से आवागमन करनेवाले नागरीको को  भारी अडचने आ रही है़ जिस से दुर्घटना की संभावना नर्मिाण हो रही है़ इन सभी यातायात बाधीत मार्गपर ,चौराहो पर ट्रँफीक पुलिस नियमीत रुप से लगाने की मांग नागरीको व्दारा की जा रही  है़
रोड सग्निल का फोटो प्रेस से लगाए