आवास योजनाओं के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए योजनाबद्ध प्रयास करें

  • पालकमंत्री शंभूराज देसाई
  • महाआवास अभियान की जिलास्तरीय कार्यशाला हुई

वाशिम. राज्य सरकार ने 20 नवंबर 2020 से 28 फरवरी 2021 इस 100 दिनों के अवधि के लिए महाआवास अभियान घोषित किया है. विविध आवास योजना के अंतर्गत जिले को प्राप्त घरकुल निर्माण का लक्ष्य पूर्ण करने के लिए यह अभियान हाथ में लिया गया है़  यह अभियान प्रभावी रुप से चलाकर घरकुल के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए योजनाबद्ध प्रयास करने की सूचना पालकमंत्री शंभूराज देसाई ने दी है़  वे ऑनलाइन पद्धति से आयोजित महाआवास अभियान के जिलास्तरीय कार्यशाला का उद्घाटन के अवसर पर बोल रहे थे़ 

इस अवसर पर जिप अध्यक्ष चंद्रकांत ठाकरे, विधायक राजेंद्र पाटणी, जिप मुख्य कार्यकारी अधिकारी मंगेश मोहिते, निवासी उप जिलाधिकारी शैलेश हिंगे, उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी कालिदास तापी, जिला ग्रामीण विकास यंत्रणा के प्रकल्प संचालक डा. विनोद वानखेडे, जिला अग्रणी बैंक के व्यवस्थापक दत्तात्रय निनावकर समेत जिलास्तरीय यंत्रणाओ के अधिकारी उपस्थित थे.

पालकमंत्री देसाई ने कहा कि विविध आवास योजना के अंतर्गत जिले को प्राप्त लक्ष्य के अनुसार लाभार्थी चयन व घरकुल को मंजूरी की प्रक्रिया हुई है. घरकुल को मंजूरी देकर न रोकते हुए घरकुल विहित समयावधि में पूर्ण होने के लिए तहसील व जिलास्तर पर पहल होना आवश्यक है़  एक बार शुरू हुए घरकुल का काम न रुकना चाहिए़  लाभार्थियों को आनेवाली दिक्कतों का निपटारा प्रशासन तुरंत करें.

महाआवास अभियान सफलता के लिए जिले के जनप्रतिनिधियों ने प्रशासन को सहयोग करने का भी उन्होंने बताया़  जिप अध्यक्ष ठाकरे ने कहा कि जिले में आवास योजना का काम गतिमान होने के लिए महाआवास अभियान से मदद होगी. आवास योजना से मंजूर हुए घरकुल का निर्माण कार्य करते समय लाभार्थियों को आनेवाली दिक्कतें हल करने के लिए तहसील व जिलास्तर के प्रशासकीय यंत्रणाओं ने प्राथमिकता देना चाहिए.

विधायक पाटणी ने समयोचित भाषण किया़  जिला ग्रामीण विकास यंत्रणा के प्रकल्प संचालक डा़ वानखेडे ने पीपीटी द्वारा अभियान प्रस्तुत किया़  अभियान का उद्देश्य व इस के अंतर्गत चलाए जानेवाले उपक्रम के संबंध में जानकारी दी. अभियान के अतंर्गत 5 से 13 दिसंबर के दौरान तहसीलस्तरीय कार्यशालाओं का आयोजन किया जाने का उन्होंने बताया़