विश्व शांति रथ यात्रा का स्वागत

वाशिम(का). समाज में सर्वधर्म समभाव रहना इस उद्देश्य से तामिलनाडु के कृष्णगिरी से प्रारंभ हुए पार्श्व पद्मावती शक्तिपीठ तीर्थधाम के विश्वशांति रथयात्रा का आगमन होने पर समस्त जैन बांधवों की

 
वाशिम(का). समाज में सर्वधर्म समभाव रहना इस उद्देश्य से तामिलनाडु के कृष्णगिरी से प्रारंभ हुए पार्श्व पद्मावती शक्तिपीठ तीर्थधाम के विश्वशांति रथयात्रा का आगमन होने पर समस्त जैन बांधवों की ओर से रथयात्रा का उत्स्फुर्त स्वागत कर पार्श्वनाथ् भगवान की प्रतिमा के दर्शन किए. तामिलनाडु के कृष्णगिरी से पार्श्व पद्मावती शक्तिपीठ तीर्थधाम के माध्यम से समाज में शांति व सर्वधर्म समभाव रहे इसके लिए 5 मार्च से विश्वशांति रथयात्रा का आयोजन किया गया है़ यह रथयात्रा 11 राज्यों के 280 शहरों में से 380 दिन मार्गभ्रमण करेगी़. रथयात्रा भ्रमण के बाद आगामी 3 फरवरी 2019 से 11 फरवरी 2019 के बीच कृष्णगिरी में भगवान पार्श्वनाथ के मूर्ति का ऐतिहासिक प्राणप्रतिष्ठा समारोह होगा़ राष्ट्रसंत यतीवर्य डा़ वसंतविजय महाराज इनके मार्गदर्शन व प्रेरणा से कृष्णगिरी में विश्व के एकमात्र व सबसे ऊंचे 421 फुट के विशाल मंदिर में इस मूर्ति की प्राणप्रतिष्ठा हो रही है़ इस अवसर पर विधायक लखन मलिक, जेष्ठ समाजसुधारक हुकुमचंद बागरेचा, मूलचंद संचेती,शांतिलाल मालिया,सुभाषचंद्र सुराणा, उत्तमचंद बलदोटा, योगेश देशपांडे, धनजंय हेंद्रे,निलेश सोमाणी ,मनिष संचेती,राजेश मालिया,सागर अलिझार,शैलेश गेलडा, आनंद सालेचा, सागर छाजेड,नविन मालिया, कांताबाई मालिया आदि उपस्थित थे़.