वाशिम से दौड़ी पूर्णा-अकोला डेमू ट्रेन

    वाशिम. कोरोना संक्रमण कम होने पर साधारण श्रेणी के यात्रियों की सुविधा के लिए 19 जुलाई से डेमू ट्रेन पूर्णा-वाशिम-अकोला-अकोट मार्ग पर शुरू की गई़  कोरोना काल के बाद पहली बार इस मार्ग पर यह ट्रेन दौड़ी है़  यह ट्रेन पूरी तरह से अनारक्षित होकर इस से छोटे स्टेशन के यात्रियों के लिए सुविधा होकर आसानी से साधारण श्रेणी में यात्रा कर सकेंगे़  यह पूर्णा-वाशिम-अकोला-अकोट मार्ग पर डेमू पैसेंजर ट्रेन क्रमांक 57582  पूर्णा-अकोट डेमू पैसेंजर शुरू की गई है़.

    यह ट्रेन पूर्णा से सुबह 7 बजे निकल कर वाशिम स्टेशन पर सुबह 10 बजे पहुंची़  अकोला में 12:30 बजे पहुंचकर अकोट में दोपहर 1:45 बजे पहुंचेगी़  तो वापसी में यह ट्रेन क्रमांक 57539 अकोट-पूर्णा डेमू पैसेंजर अकोट से दोपहर 2 बजे निकलकर पूर्णा में रात 8:30 बजे पहुंचेगी़  अकोला –वाशिम –हिंगोली – पूर्णा इस मार्ग के नागरिकों के लिए यह मार्ग सुविधाजनक रहने से विगत अनेक महीने से मार्ग की पैसेंजर ट्रेन शुरू होने की क्षेत्र की नागरिकों से प्रतीक्षा की जा रही है़.

    इस दौरान अभी 19 जुलाई से इस मार्ग पर यह डेमू पैसेंजर ट्रेन शुरू हो गई़  डेमू ट्रेन का फायदा यह है कि इसमें दोनों ओर से इंजन लगे होते है याने बार बार इंजन बदलने की झंझट नही होती़  पैसेंजर के मुकाबले इसकी रफ्तार भी अधिक रहती है़  इस तरह की ट्रेन छोटे स्टेशनों के यात्रियों के लिए अच्छी रहती है. 

    सप्ताह में छह दिन ही दौड़ेगी 

    अकोट रेलवे स्टेशन से अकोला-वाशिम-हिंगोली मार्ग से पूर्णा के लिए व पूर्णा से अकोट यह डेमू पैसेंजर प्रस्तावित ट्रेन सप्ताह में 6 बार दौड़ेगी़