Lord Shiva temples remain closed due to Corona

    वाशिम. आगामी 25 जुलाई से सावन माह शुरू हो रहा है़  इस में 26 जुलाई को पहला श्रावण सोमवार आ रहा है़  इस माह में शिवजी की पूजा, अर्चना की जाती है़  हरेक सोमवार को शिवजी का अभिषेक करने के लिए शिवभक्त विविध नदियों से पैदल कांवड़ के माध्यम से पवित्र जल लाते है़  लेकिन गत वर्ष से कोरोना के संकट के कारण शिव भक्त बाहर गांव जल लाने के लिए उनको संभव नही हो रहा है.

    इस साल भी कोरोना की पाबंदी होने से शिवभक्तों में निराशा का वातावरण है़  इस माह में कांवड़ यात्रा का आयोजन किया जाता है़  इस में युवा बड़े उत्साह से शामिल होते है़  लेकिन अब कोरोना के चलते सभी उत्सवों पर बंदी है़.

    कोरोना के वजह से गत वर्ष से सभी मंदिर बंद है़  शिवजी का सावन माह में अभिषेक करना महापूण्य माना जाता है़  लेकिन मंदिर बंद रहने से इस बार भी महोदव के अभिषेक की अभिलाषा पूर्ण होने की संभावना नजर नही आती़  शिवजी के पूजा के लिए आवश्यक पूजा सामग्री की बिक्री के लिए शिवजी मंदिरों के पास दूकानें लगती है.

    लेकिन गत डेढ़ वर्षो से कोरोना के कारण मंदिर बंद रहने से दूकानें भी नही लग रही है़  इस बार कुछ ऐसा ही वातावरण रहने से मंदिर के पास बैठकर सामग्री बेचने वालों के व्यवसाय भी चौपट हो गए है.