खुजली की बीमारी से हजारों नागरिक ग्रस्त

मंगरुलपीर. सामान्य जनता के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर राज्य स्वास्थ्य विभाग करोड़ों की औषधि उपलब्ध करा रहा है. किंतु तहसील के अनेक हिस्सों में खुजली जैसी बीमारी से हजारों लोग त्रस्त हैं. इस बीमारी

मंगरुलपीर. सामान्य जनता के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर राज्य स्वास्थ्य विभाग करोड़ों की औषधि उपलब्ध करा रहा है. किंतु तहसील के अनेक हिस्सों में खुजली जैसी बीमारी से हजारों लोग त्रस्त हैं. इस बीमारी पर किसी भी तरह का कोई अंकुश लगता नजर नहीं आ रहा है. ग्रामीण क्षेत्रों में इस बीमारी से तहसील के कुछ लोग चपेट में आए हैं जिससे ग्रामीणों में भय व्याप्त हो गया है. कुछ अपना इलाज निजी अस्पतालों में करवाने को मजबूर हैं. स्वास्थ्य विभाग द्वारा हर उपकेंद्र में इस लाइलाज बीमारी की रोकथाम हेतु औषधि उपलब्ध कराए जाने का ढिंढोरा पीटा जा रहा है.

आसेगांव में सैकड़ों बीमारी की चपेट में
मंगरुलपीर तहसील के आसेगांव क्षेत्र में इस बीमारी ने अपनी पकड़ बना ली है. आसेगांव में सैकड़ों मरीज इसी बीमारी से ग्रस्त हैं. गांव की महिलाएं, पुरुष बालक, बालिकाएं इस बीमारी की चपेट में हैं.

आखिर यह बीमारी इतनी भारी मात्रा में कैसे बढ़ गयी, इस बात से संबंधित स्वास्थ्य विभाग भी अनभिज्ञ है. बीमारी से ग्रस्त मरीजों को इस बीमारी से बाहर निकालने की मुख्य जवाबदारी अब पूरी तरह से स्वास्थ्य विभाग पर है.