रिश्वत लेते लिपिक अरेस्ट

वाशिम. कक्षा बारहवीं में शिक्षा ले रहे एक विद्यार्थी से स्वाधार योजना सूची में नाम शामिल करने के लिए 3,000 रु. मांगने वाले समाज कल्याण विभाग के कनिष्ठ लिपिक को 1,500 रु. की रिश्वत लेते हुए

वाशिम. कक्षा बारहवीं में शिक्षा ले रहे एक विद्यार्थी से स्वाधार योजना सूची में नाम शामिल करने के लिए 3,000 रु. मांगने वाले समाज कल्याण विभाग के कनिष्ठ लिपिक को 1,500 रु. की रिश्वत लेते हुए भ्रष्टाचार प्रतिबंधक विभाग के दस्ते ने रंगेहाथ पकड़ लिया़

मांगे थे रु. 3,000
पुलिस सूत्रों के अनुसार विद्यार्थी की शिकायत के अनुसार शासन मार्फत अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति प्रवर्ग के विद्यार्थियों के लिए डा़ बाबासाहेब आंबेडकर स्वाधार योजना चलाई जा रही है़ इस योजना के लाभों के लिए तथा सूची में नाम शामिल करने के लिए वाशिम के समाज कल्याण विभाग के कनिष्ठ लिपिक पवन म्हस्के (27) वर्ष ने 3,000 रु. की रिश्वत की मांग की़

रु. 1500 देना हुआ तय
समझौते के बाद 1,500 देना तय हुआ़ विद्यार्थी की शिकायत के बाद एसीबी के दस्ते ने लिपिक को 1500 रुपये लेते रंगेहाथ पकड़ लिया़ उक्त कार्यवाही एसीबी के पुलिस अधीक्षक घिवरे, अतिरिक्त अधीक्षक डोंगरदिवे के मार्गदर्शन में पुलिस उपअधीक्षक राहुल गांगुर्डे, सहा़ पुलिस उपनिरीक्षक प्रमोद पाटिल, नंदकिशोर परलकर, पुलिस हवालदार बेलोकार, पुलिस नायक विनोद अवगले ने की.