अमन के लिए मांगी दुआएं

मंगरुलपीर. रमजान माह के रोजे के बाद चांद दिखाई देने से बुधवार को खुशियों का पर्व ईद-उल-फितर मंगरुलपीर शहर और आस पास के गांवों में धूमधाम से मनाया गया. इस अवसर पर मुस्लिम बंधुओं ने मस्जिदों व ईदगाहों

मंगरुलपीर. रमजान माह के रोजे के बाद चांद दिखाई देने से बुधवार को खुशियों का पर्व ईद-उल-फितर मंगरुलपीर शहर और आस पास के गांवों में धूमधाम से मनाया गया. इस अवसर पर मुस्लिम बंधुओं ने मस्जिदों व ईदगाहों पर नमाज अदा कर अमन की दुआएं मांगी. इस दौरान ईदगाहों पर मेला लगा रहा. लोगों ने एक दूसरे से गले मिल कर ईद की मुबारकबाद दी. इस पर्व पर सभी वर्गों के लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. यहां प्रशासनिक मुस्तैदी भी रही. इमाम द्वारा खुतबा करने के बाद अल्लाह की इबादत में नमाज अदा की गई. शहर के ईदगाह, जामे मस्जिद, दिवान पुरा मस्जिद, दरगाह मस्जिद आदि स्थानों पर ईद की नमाज अदा की गई. जनप्रतिनिधि व सामाजिक कार्यकर्ता, राजनीतिक दलों के लोगों ने एक दूसरे से गले मिलकर बधाई दी.

बच्चों में उत्साह
ईद पर बच्चों का उत्साह देखते ही बन रहा था. ईद के मेले का बच्चों ने आनंद उठाया. ईदगाह पर नन्हे बच्चे से लेकर बुजुर्ग, युवाओं ने एक दूसरे को गले मिल कर बधाई दी.

ईद के अवसर पर ईदी देने की परंपरा है. बड़े अपने से छोटों को ईदी देते है. इसलिए रमजान का पाक महीना पूर्ण होने पर बच्चों में ईदी के लिए विशेष उत्साह देखा जाता है. अपने बड़ों से ईदी पाकर बच्चे खुश हुए . बच्चों ने नये कपड़े पहने और ईदगाह पर खरीदी करके लुत्फ उठाया.

मौलाना अन्सार अहमद द्वारा ईद की नमाज़ के पश्चात विशेष दुआ कर शहर में अमन और भाईचारे की सलामती के लिए दुआ मांगी गई.

शांति और भाईचारे का दिया संदेश
बार्शीटाकली में एक माह के पवित्र रोजों के बाद शहर में ईद-उल-फितर बड़े ही उत्साह के साथ मनाया गया. नमाज के बाद ईदगाह और इतर मस्जिदों में मौलवियों ने शांति और भाईचारे का संदेश दिया. नमाज के बाद मुस्लिम बंधुओं ने एक दूसरे के गले लगकर ईद की मुबारकबाद दी.

ईदगाह पर मुफ्ती सादउल्लाद खान ने, मरुजोद अकोली बेस मोनारा मस्जिद में मौलाना अ.सलाम ने, खड़क पुरा मस्जिद में मौलाना एजाज खान ने, इमलोबन मस्जिद में एहसान उल्ला खान ने, खिड़की पुरा मस्जिद में काजी नाजीमोद्दीन ने और डहेंड बेस मस्जिद में अ.समद इमाम साहब ने नमाज अदा करवाई. इस दौरान थानेदार राणे ने कड़ा पुलिस बंदोबस्त रखा था.

स्थानीय मीनारा मस्जिद अकोली बेस में ईद की नमाज के बाद थानेदार तिरुपति राणे ने मस्जिद पहुंचकर इमाम व खतीब और जमीअत उलमा के तहसील अध्यक्ष मौलाना अ.सलाम को ईद की शुभकामनाएं दी. इस अवसर पर पीएसआई चव्हाण, सैय्यद अमीन उर्फ छोटूभाई, हाजी आशिक, शोएब इनामदार, तौकीर हुसैन, एहफाज इनामदार, मुफीज खान, अ.हक्क, कालु शाह, मो.अबरार, सैय्यद सादीक, अ.रज्जाक आदि उपस्थित थे. इसी तरह ईदगाह पर मुफ्ती सादउल्ला खान, नगर अध्यक्ष महेफुज खान और पूर्व सरपंच मासुम खान को भी थानेदार राणे ने मिलकर ईद की शुभकामनाएं दी.

बोरगांव में मनाई ईद
बोरगांव मंजू में मुस्लिम बंधुओं ने एक माह का रोजा रखने के बाद ईद उत्साह के साथ मनाई. ईद के उपलक्ष्य में बस स्थानक परिसर के मंजू बाबा दर्गा के प्रांगण में मुस्लिम बंधुओं ने नमाज अदा की. इस दौरान मोली जाहीर ने कहा कि प्रत्येक धनवान व्यक्ति ने जकात अदा कर अपने कर्तव्य का पालन करें, अपनी कमाई से गरीब और जरुरतमंदों की सहायता करनी चाहिए, इसी तरह माता, पिता की सेवा भी करनी चाहिए, यह मार्गदर्शन किया. नमाज मौलाना शफक्कत साहब ने अदा करायी. इस दौरान गांव के नागरिक, युवक, बच्चे आदि उपस्थित थे. नमाज के बाद सभी ने एक दूसरे को ईद की मुबारक बाद दी. इस अवसर पर पुलिस प्रशासन तथा ग्राम पंचायत के पदाधिकारी, सामाजिक कार्यकर्ता तथा मुस्लिम बंधु बड़ी संख्या में उपस्थित थे. इस दौरान कानून और सुव्यवस्था बनाए रखने के लिए थानेदार संजीव राऊत के मार्गदर्शन में पुलिस विभाग ने कड़ा बदोबस्त लगाया था.

एक-दूसरे के गले मिलकर दी शुभेच्छा
रमजान महीने की समाप्ति के बाद शहर के साथ जिले भर में ईद बड़े उत्साह से मनाई गई. मुस्लिम समाज के बंधुओं ने ईदगाह पर जाकर ईद -उल-फितर की नमाज अदा की. बाद में एक दूसरे के गले मिलकर ईद की शुभेच्छा दी.