अमरावती-वाशिम रेल मार्ग का सर्वेक्षण

कारंजा. वाशिम जिले के सर्वांगीण विकास के लिए अमरावती-वाशिम रेल मार्ग महत्वपूर्ण माना जाता है. पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के आदेशानुसार अमरावती-वाशिम रेल मार्ग का प्राथमिक सर्वेक्षण हुआ था. लेकिन

कारंजा. वाशिम जिले के सर्वांगीण विकास के लिए अमरावती-वाशिम रेल मार्ग महत्वपूर्ण माना जाता है. पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के आदेशानुसार अमरावती-वाशिम रेल मार्ग का प्राथमिक सर्वेक्षण हुआ था. लेकिन उस सर्वेक्षण का अहवाल नकारात्मक रहने से अगली पूर्ण प्रक्रिया ठंडे बस्ते में थी. लेकिन सांसद भावना गवली के विशेष प्रयत्नों से अमरावती-वाशिम रेल मार्ग के पुन: सर्वेक्षण के लिए रेल अधिकारियों की टीम कारंजा में आयी थी. टीम ने मंगरुल तथा वाशिम के व्यापारी और यात्री मंडलों के अधिकारियों से चर्चा कर रेल मार्ग के पुन: सर्वेक्षण की प्रक्रिया शुरू की है. यह जानकारी पूर्व विधायक प्रकाश डहाके ने दी.

उन्होंने कहा कि पश्चिम विदर्भ, मराठवाड़ा, हिंगोली, परभणी जिले के विकास की दृष्टि से इस मार्ग की सामूहिक रूप से मांग की गयी थी. अब इस मार्ग का सर्वेक्षण शुरू हो गया है. यह मार्ग काफी महत्वपूर्ण है. जिससे कारंजा में आए सभी अधिकारियों को पिछली सभी जानकारी विस्तार पूर्वक समझायी गयी. पश्चिम विदर्भ और मराठवाड़ा को जोड़नेवाला यह महत्वपूर्ण रेल मार्ग काफी उपयोगी साबित होगा. इस रेल मार्ग का निर्माण होने के बाद पश्चिम विदर्भ व मराठावाड़ा के बीच उद्योग बढ़कर बड़े प्रमाण में फायदा होगा. जिससे जल्द से जल्द यह रेल मार्ग शुरु करने की मांग प्रकाश डहाके ने सर्वेक्षण के लिए आए रेल अधिकारियों से की है.

रेल मार्ग के निर्माण के लिए प्रकाश डहाके ने सांसद भावना गवई से मांग की थी तब उन्होंने रेल मार्ग पूर्ण करने का आश्वासन दिया था. जिससे सांसद गवली के नेतृत्व में महत्वपूर्ण माने जानेवाला रेल मार्ग को पूर्ण करने के लिए प्रयास किए जाने का विश्वास प्रकाश डहाके ने व्यक्त किया है. सर्वेक्षण के लिए आए अधिकारियों की टीम से हुई चर्चा के दौरान बाजार समिति सभापति प्रकाश डहाके, संचालक ब्रिजमोहन मालपाणी, पार्षद प्रसन्न पलसकर, नितिन गढवाले, गणेश बाबरे, योगेश जयस्वाल उपस्थित थे.