Out of 136 projects in the district, 36 are dry, more than 50 water storage in 16 projects

वाशिम. इस वर्ष वर्षा का मौसम शुरू होकर डेढ़ महीने बीत गया है़ लेकिन जिले में जोरदार बारिश नहीं हुई़ परिणामत: खरीफ की बुआई की गई अधिकतर फसलों पर सूखने का संकट मंडरा रहा है़ जिले के अनेक भागों में कुए,

वाशिम. इस वर्ष वर्षा का मौसम शुरू होकर डेढ़ महीने बीत गया है़ लेकिन जिले में जोरदार बारिश नहीं हुई़ परिणामत: खरीफ की बुआई की गई अधिकतर फसलों पर सूखने का संकट मंडरा रहा है़ जिले के अनेक भागों में कुए, हैंडपंप, बोर समेत अन्य पानी के स्त्रोतों में प्रर्याप्त मात्रा में पानी नहीं होने से नागरिकों को भी पानी को लेकर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है़ जिले में प्रतिवर्ष मृग नक्षत्र से ही बारिश का आगमन होता है़ इसके बाद किसानों व्दारा खरीफ की बुआई शुरू की जाती है़ लेकिन इस वर्ष एक महीना देरी से बुआई की शुरूवात हुई है़

बारिश की उम्मीद में की बुआई

किसानों ने बारिश आने की उम्मीद से बुआई की है़ दमदार बारिश नहीं होने से जिले के अनेक भागों में आज भी नदी नाले, जलाश्य सूखे की स्थिति में ही है़ करीब बारिश आधा मौसम समाप्ति पर होकर आज की स्थिति में अनेक गांवों मे पीने के पानी के लिए लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है़ दमदार बारिश नहीं होने से जलस्तरों मे वृध्दि नहीं हुई है़

120 जल प्रकल्पों में 0 प्रश जलभंडार

वाशिम जिले में तीन मध्यम व 131 लघु जलप्रकल्प है. प्राप्त आंकड़ों के अनुसार जिले के तीन मध्यम जलप्रकल्पों में केवल 4.57 प्रश जलभंडार होकर इनमें वाशिम शहर को जलापुर्ति करने वाले एकबुर्जी जलप्रकल्प में 8.27 प्रश, कारंजा के अडान जलप्रकल्प में 5.06 प्रश मालेगांव के सोनल मध्यम जलप्रकल्प में 0 प्रश जलभंडार है़ इसी प्रकार से जिले के अन्य 131 लघुजलप्रकल्पो में अभी तक कुल 4.94 प्रश जलभंडार होकर जिले के कुल 134 जलप्रकल्पों में 4.86 प्रश जलभंडार होने से जिले के जलाश्यों की स्थिति अत्यंत गंभीर बनी हुई है़

35 लघु जलप्रकल्पों में 2.16 प्रश पानी

तालुका निहाय में वाशिम तहसील के 35 लघु जलप्रकल्पों में अभी केवल 2.16 जलभंडार है. शेलगांव 22.35 प्रश, फालेगांव 15.29 प्रश व पंचाला में 47.30 प्रश इन तीन प्रकल्पों में जलभंडार होकर अन्य 32 जलप्रकल्पो में 0 प्रश जल संग्रह है़ मालेगांव तहसील के कुल 23 जलप्रकल्पों में 2.81 प्रश जलभंडार है़ यहा पर सोनखास में 2.13 प्रश,अडोल में 16.29 प्रशव कुत्तरडोह 12.44 प्रश जलभंडार होकर अन्य 20 जलप्रकल्पों में 0 प्रश जलभंडार है़ इसी प्रकार से रिसोड तहसील में कुल 18 लघु जलप्रकल्पों में अभी 1.73 प्रश जलभंडार होकर यहा पर कोयाली सं. में 7.96 प्रश, कोयाली 6.74 प्रश, वाघी में 1.73 प्रशव वाडी रायताल में 9.04 प्रश जलभंडार कर अन्य 14 जलप्रकल्प में 0 प्रश जलभंडार है़

कारंजा के जलप्रकल्पों की स्थिति ठीक

मंगरुलपीर तहसील के कुल 15 लघु जलप्रकल्पों में 0.81 प्रश जलभंडार होकर इस तहसील में मोतसावंगा जलप्रकल्प में 5.90 प्रशजलभंडार होकर अन्य 14 जलप्रकल्पो में 0 जलभंडार है़ मानोरा तहसील में 24 लघु जलप्रकल्पों में 7.48 प्रश जलभंडार होकर इस तहसील में आमदरी में 29.39 प्रश,गिरोली 6.04 प्रश,रतनवाडी 24.92 प्रश, रोहणा 31.47 प्रश, वाठोद 21.89 प्रश,गोंडेगाव मे 17.26 प्रशव कुपटा मे 9.91 प्रश जलभंडार होकर अन्य 17 जलप्रकल्पों में 0 जलभंडार है़ कारंजा तहसील के कुल 16 जलप्रकल्पों में अभी 17.68 प्रश जलभंडार है़ इस तहसील में बग्गी में 11.17 प्रश, मोहगव्हण में 18.09 प्रश, उंद्री में 18.89 प्रश,येवता में 8.86 प्रश,वडगाव में 67.52 प्रश,किनखेडा मे 46.35 प्रशव पारवा मे 30.37 प्रश आदि 7 जलप्रकल्प में जलभंडार होकर अन्य 9 जलप्रकल्पों में 0 प्रश जलभंडार शेष है़ जिले के अन्य तहसीलों की तुलना में कारंजा के जलप्रकल्पो मे रहने वाली स्थिति ठीक बतायी जा रही है़