4–वाशिम- शिवजी के अभिषेक के लिए

वाशिम. तहसील के कंटकतीर्थ (काटा) ग्राम निवासी कावड मंडल के युवकों ने दूसरे राज्य से जल लाकर शिवजी का जलाभिषेक करने की परंपरा इस वर्ष भी कायम रखने जा रहे है़ इस वर्ष युवकों ने गुजरात के सोरटी सोमनाथ

वाशिम. तहसील के कंटकतीर्थ (काटा) ग्राम निवासी कावड मंडल के युवकों ने दूसरे राज्य से जल लाकर शिवजी का जलाभिषेक करने की परंपरा इस वर्ष भी कायम रखने जा रहे है़ इस वर्ष युवकों ने गुजरात के सोरटी सोमनाथ से जल लाने का निर्णय लिया है़ 22 जुलाई को 20 शिवभक्त सोरटी सोमनाथ के लिए रवाना होंगे. काटा के शिवशक्ति कावड मंडल की ओर से इस वर्ष भी कावड यात्रा का आयोजन किया गया है़ प्रथम वर्ष औंढा नागनाथ इस तीर्थक्षेत्र से शुरु हुई कांवड यात्रा परली वैद्यनाथ, भीमाशंकर, घृनेश्वर, ओंकारेश्वर, उज्जैन, त्र्यंबकेश्वर, श्रीशैल्यम आदि स्थानों से पवित्र जल लाकर काटा स्थित शिवशक्ति मंदिर में जलाभिषेक किया है़

कल निकालेंगे शोभायात्रा
इस वर्ष यह कांवड यात्रा सोरटी सोमनाथ तीर्थस्थल से जल लाएंगे. प्रस्थान करने के पूर्व काटा ग्रामीणों ने 22 जुलाई को एक शोभायात्रा का आयोजन किया है. एक महिने के पैदल यात्रा करके श्रावण महीने के आखरी सोमवार को यह कावड यात्रा काटा पहुंचेगी और सोरटी सोमनाथ से लाए हुए जल से काटा स्थित शिवजी का जलाभिषेक किया जाएग़ा़ इस कावड यात्रा में उमेश इंगोले, अनंता चोपडे, सतीश वाघ, गोपाल तायडे, गोपाल देशमुख, गोपाल सुर्वे, अमोल खरात, विजय कालबांडे, प्रदीप देशमुख, शिवाजी पवार, शाम सरोदे, विकास देशमुख आदि शिवभक्त शामिल है़

काटा ग्राम के साथ संपूर्ण वाशिम जिले में विविध स्थानों से श्रावण महिने में कावड यात्रा का आयोजन किया जाता है़ यह युवक मंडल विविध स्थानों से जल लाकर स्थानीय शिवजी का जलाभिषेक करते है़ं वाशिम में श्रावण महीने के तीसरे सोमवार को कांवडियों का आगमन होता है़