कृमिनाशक गोलियों का वितरण 8 को

वाशिम. जिले में 1 से 19 वर्ष आयुगुटों के विद्यार्थियों को व बालकों को राष्ट्रीय कृमिनाशक (जंतनाशक) दिन के निमित्य 8 अगस्त को कृमिनाशक गोलियों का वितरण किया जाएगा है़ इस मुहिम की तैयारी का जायजा लेने

वाशिम. जिले में 1 से 19 वर्ष आयुगुटों के विद्यार्थियों को व बालकों को राष्ट्रीय कृमिनाशक (जंतनाशक) दिन के निमित्य 8 अगस्त को कृमिनाशक गोलियों का वितरण किया जाएगा है़ इस मुहिम की तैयारी का जायजा लेने के लिए जिलाधिकारी ह्षीकेश मोडक की अध्यक्षता में जिलास्तरीय समन्वय समिति की एक सभा आयोजित की गई थी़ इस मुहिम से एक भी विद्यार्थी अथवा बालक वंचित नहीं रहेगा इस बाबत सर्तकता रखने की सूचना जिलाधिकारी मोडक ने दिए है़

जिलाधिकारी कार्यालय के वाकाटक सभागृह में आयोजित इस सभा के लिए जिला परिषद के मुख्यकार्यकारी अधिकारी दीपककुमार मीना, जिला शल्य चिकित्सक डा़ अंबादास सोनटक्के, जिला स्वास्थ अधिकारी डा़ अविनाश आहेर, शिक्षण अधिकारी अंबादास मानकर आदि प्रमुखता से उपस्थित थे़ जिलाधिकारी ने कहा कि 8 अगस्त को होने वाले कृमिनाशक गोली वितरण मुहिम को सफल बनाने के लिए स्वास्थ विभाग,शिक्षण विभाग, अंगानवाडी, एकात्मिक महिला व बालविकास विभाग, शाला, महाविद्यालये व्यवस्थापन ने परस्पर समन्वय रखना चाहिए़ इस बाबत सर्वाधिक कर्मचारियों को आवश्यक प्रशिक्षण देना चाहिए़ डा़ आहेर ने बताया की,विश्व आरोग्य संगठना के अनुमान नुसार भारत देश में एक से 19 वर्ष आयु गुटों के किमान 68 प्रतिशत बालकों में पाए जाने वाले कृमिदोष यह मिट्टी से प्रसारित होने वाले कृमियों से ही होता है़

गोलियों का कोई साइट इफेक्ट नहीं
इस कारण से बालकों की बौध्दिक व शारीरिक वृध्दि भी रुक जाती है़ जिस से राष्ट्रीय कृमिनाशक दिन के निमित 8 अगस्त को 1 से 19 वर्ष आयुगुटों के सभी बच्चों को शाला, आगनवाड़ियों में कृमिनाशक की गोलियां देकर उनका स्वास्थ बेहतर रखने का उपक्रम चलाया जाएगा है़ इन गोलियों का किसी भी प्रकार से साईड इफेक्ट नहीं होगा़ जिले के करीब 3 लाख 79 हजार बच्चों को क़ृमिनाशक गोलियों के वितरण का लक्ष्य रखा गया है़ इस दृष्टि से आवश्यक नियोजन किया गया है़ 8 अगस्त को उपस्थित नहीं रहने वाले विद्यार्थियों के लिए 16 अगस्त को कृमिनाशक गोलियों का वितरण किया जाएगा.