बेमौसम बारिश से 2.87 लाख हेक्टयर फसलों का नुकसान

वाशिम. जिले में बेमौसम बारिश के कारण फसलों के नुकसान को लेकर पंचनामों का कार्य पूर्ण कर अंतिम रिपोर्ट प्रस्तुत गई. इसके अनुसार जिले में 2 लाख 50 हजार 350 किसानों का कुल 2 लाख 87 हजार 165 हेक्टयर के

वाशिम. जिले में बेमौसम बारिश के कारण फसलों के नुकसान को लेकर पंचनामों का कार्य पूर्ण कर अंतिम रिपोर्ट प्रस्तुत गई. इसके अनुसार जिले में 2 लाख 50 हजार 350 किसानों का कुल 2 लाख 87 हजार 165 हेक्टयर के फसलों का 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान हुआ है़ इस नुकसान के लिए किसानों को 197 करोड़ 89 लाख 39 हजार 832 रुपयों की अपेक्षित सहायता निधि का एक प्रस्ताव जिलाधिकारी कार्यालय मार्फत शासन की ओर भेजा जाएगा. दरम्यान फसल नुकसानी के पंचनामों की फिर जांच की जा रही है़

– कृषि व राजस्व विभाग ने किया संयुक्त निरीक्षण

जिले में 27 अक्टूबर से 4 नवबंर तक बेमौसम बारिश ने कहर ढाया था़ जिससे फसलों का भारी प्रमाण में नुकसान हुआ है़ नुकसान का निरीक्षण कृषि व राजस्व विभाग ने संयुक्त रूप से की है़ इस निरीक्षण के बाद प्राथमिक रिपोर्ट के अनुसार जिले के 795 गांवों के 2 लाख 78 हजार 938 हेक्टयर क्षेत्र में फसल नुकसान होने का निर्देशन में आया़ इसके बाद प्रशासन ने इन पंचनामों की जांच व डाटा एन्ट्री की प्रक्रिया पूर्ण की़ इसके अनुसार जिले में 2 लाख 87 हजार 165 हेक्टयर पर 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने का स्पष्ट हुआ़ इन नुकसान का परिनाम 2 लाख 50 हजार 350 किसानों पर हुआ है़ इसमें जिरायत, बागवानी व फलबागों का समावेश है़ अब इन किसानों को शासन की ओर आर्थिक सहायता देने के लिए प्रशासन ने रिपोर्ट तैयार की है़ इस रिपोर्ट के अनुसार किसानों को 197 करोड़ 89 लाख 39 हजार 832 रुपयों का वितरण करना पड़ेगा़ कोई भी किसान शासन की सहायता से वंचित नहीं रहे. इस बाबत पंचनामों की फिर से जांच की जा रही है़ यह जांच पूर्ण होने के बाद आवश्यक सुधार रिपोर्ट में की जाने की जानकारी प्रशासन ने दी है़

– बागवानी क्षेत्रों में 3,522 किसान बाधित

बेमौसम बारिश से जिले के जिरायती क्षेत्र में 2 लाख 46 हजार 394 किसानो का समावेश है़ व इनका 2 लाख 83 हजार 656.9 हेक्टयर क्षेत्र बाधित हुआ है़ इसी प्रकार से बागवानी क्षेत्रों में 3,522 बाधित किसानो का समावेश है़ व इनका 2 हजार 905.10 हेक्टयर क्षेत्र बाधित हुआ है़ फलबागो के क्षेत्रो में 434 बाधित किसानो को समावेश होकर इनका 602.99 हेक्टयर क्षेत्र बाधित हुआ है़ इस प्रकार से कुल 2 लाख 50 हजार 350 बाधित किसानो के कुल 2 लाख 87 हजार 165.03 हेक्टयर क्षेत्र बाधित हुआ है़ व इन सभी के लिए कुल 197 करोड़ 89 लाख 39 हजार 832 रुपयों की निधि की आवश्यकता बतायी जा रही है़