वाशिम में आई कपकपाने वाली ठंड

वाशिम. जिले में छाए काले बादल हट जाने से अभी जिले में बढ़ती सर्द हवाओं के साथ ठंड ने जोर पकड़ है. विगत चार पांच दिनों से जिले में ठंड बढ़ गई है़ इसमें गुरुवार की रात से शुक्रवार की सुबह तेज ठंड

वाशिम. जिले में छाए काले बादल हट जाने से अभी जिले में बढ़ती सर्द हवाओं के साथ ठंड ने जोर पकड़ है. विगत चार पांच दिनों से जिले में ठंड बढ़ गई है़ इसमें गुरुवार की रात से शुक्रवार की सुबह तेज ठंड हवा चलती रही़ इस कारण से लोग ठिठुरने लगे है़ दिसंबर के अंतिम सप्ताह में मौसम बदलने से कभी बदरीला मौसम बना था. तो कभी कई जगह पर हलकी बारिश भी हुई़ इन दिनों यह ठंड का नजारा जहां सुहाना लगने लगा तो वहीं बच्चे, वृध्दों के लिए कठिनाइयां भी नजर आयी़

घरों में ही रह रहे
इन दिनों सर्दी से बचने के लिए लोगों ने गर्म कपडे पहनना शुरु किया है. लोग सुबह, शाम के समय शहर के विविध कालोनियों में अलाव जलाकर सेंकते नजर आए़ इस ठंड से सुबह 8 बजे के पहले व शाम 6 बजे के बाद लोग घर में रहना पसंद कर रहे है. सामान्य रुप से मराठी पौष माह से इस प्रकार की सर्द हवाएं चलती है़ लेकिन इसबार पौष माह के प्रारंभ में ही सर्द हवाएं विगत तीन दिनों से दिनभर चल रही है़ इस से बचने का लोग प्रयास कर रहे है़ शुक्रवार को शहर में सुबह से चल रही सर्द हवाओं के कारण सुबह काम पर जानेवाले लोग अपने काम के लिए देरी से गए़ तो वहीं शाम 6 बजे के बाद बाजार में ग्राहक की कमी नजर आयी़

भा रही अदरक की चाय
मौसम में आए इस बदलाव के कारण अदरक की चाय सभी को अच्छी लगने लगी़ अनेक लोगों ने बढ़ती ठंड के कारण सुबह शाम के समय तुलसी की पत्ती, काली मर्चि के साथ मसाले की चाय पिने के लिए चाय की दुकानों पर भीड़ कर रहे है़ कहीं चौराहों पर, बस स्टन्ड के सामने, रेलवे स्टेशन परिसर, कालोनियों में ठंड से बचने के लिए अलाव जलाकर गपशप कर रहे है. यह मौसम प्राकृतिक रुप से सभी के लिए अच्छा माना जाता है़.

इस वर्ष बारीश के मौसम में वापसी की बारीश अच्छी होने के कारण ठंड ने अपना असर दिखाना शुरु किया है़ अचानक एकदम से ठंड बढ़ने से बाजार में भी गर्म कपडों की दुकानों पर शाम के समय अच्छी भीड़ होने लगी है़ शहर में प्रतिवर्ष गर्म कपडे की दुकानें स्थानीय डा़ बाबासाहब आम्बेडकर चौक से पाटणी चौक तक के रोड किनारे तब्बितियों की दुकानें लगती है़ लेकिन इस वर्ष अतिक्रमण हटाओ मुहीम के कारण यह दूकानें दूसरी ओर लग रही है़ं दूसरा शनिवार होने से लोग आज सुबह देर से उठे तो सुबह की स्कूल रहने से विद्यार्थियों को ठंड का सामना करना पड़ा. सुबह टहलनेवाले लोग भी आज कम नजर आए़