किसानों के आधार कार्ड क्रमांक बैंक खाते से तुरंत लिंक करें

वाशिम. किसानों ने 1 अप्रैल 2015 से 31 मार्च 2019 के समयावधि में अल्पमुदत का फसल कर्ज लिया है़ यह कर्ज 30 सितंबर 2019 तक बकाया है. उस कर्ज की अब तक संबंधित किसानों ने भुगतान नहीं किया है. ऐसे

वाशिम. किसानों ने 1 अप्रैल 2015 से 31 मार्च 2019 के समयावधि में अल्पमुदत का फसल कर्ज लिया है़ यह कर्ज 30 सितंबर 2019 तक बकाया है. उस कर्ज की अब तक संबंधित किसानों ने भुगतान नहीं किया है. ऐसे बकायादार किसानों को महात्मा ज्योतिबा फुले किसान कर्जमुक्ति योजना- 2019 का लाभ देने के लिए बैंकों ने संबंधित किसानों के आधारकार्ड क्रमांक बैंक खाते से तुरंत लिंक करने के निर्देश जिलाधिकारी ऋषिकेश मोडक ने दिए है़. वे जिलाधिकारी कार्यालय के वाकाटक सभागृह में महात्मा ज्योतिबा फुले किसान कर्जमुक्ति योजना- 2019 को लेकर आयोजित सभा में बोल रहे थे़. सभा के लिए निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे, जिला उपनिबंधक रमेश कटके, जिला अग्रणी व्यवस्थापक दत्तात्रय निनावकर, नाबार्ड के जिला विकास व्यवस्थापक विजय खंडरे आदि प्रमुखता से उपस्थित थे़

2 जनवरी तक जमा करे दस्तावेज
जिलाधिकारी मोडक ने कहा कि किसी भी परिस्थित में बैंकों ने मिशन मोड पर काम कर 7 जनवरी तक बकाया कर्जदार किसानों के बैंक खाता आधारकार्ड क्रमांक से लिंक करे. जिस बैंको से बकायादार किसानों ने कर्ज लिया है़ उन्ही बैंक की शाखा की ओर संबंधित किसानों ने आधारकार्ड की जेरॉक्स प्रति, बैंक पासबुक के पहले पेज की जेरॉक्स प्रति और उनका फोन नं. किसी भी परिस्थिति में 2 जनवरी तक संकलित करना आवश्यक है़ जिससे संबंधित किसानों को इस योजना का लाभ समय पर ही मिलने के लिए मदद होगी़. इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को कुछ कठिनाईयां होने पर बैंकों ने उनको उचित मार्गदर्शन कर सहयोग करे़ गांव स्तर पर गट सचिव की ओर, जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक से कर्ज लेनेवाले बकायादार किसानों ने आवश्यक दस्तावेज इस योजना का लाभ लेने के लिए प्रस्तुत करना चाहिए़.

जिलाधिकारी ने कहा कि जिले के किसानों ने जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक की शाखा से कर्ज लिया है़ उन्होंने संबंधित सेवा सहकारी संस्था, तहसील देखरेख संघ कार्यालय, सहायक निबंधक कार्यालय में जाकर आधारकार्ड, पासबुक की जेरॉक्स प्रति और मो. क्रमांक देना आवश्यक है़. जिससे तुरंत उनको इस योजना का लाभ देने के लिए सुविधा हो सकेगी़ बैंक और उनके शाखानिहाय बकायादार किसानों की सूचिया बैंको ने तुरंत उपलब्ध करने पर पात्र किसानों को इस योजना का लाभ दिया जा सकेगा़. इस योजना का लाभ देने के लिए बैंकों ने शिविर का आयोजन भी करने के निर्देश जिलाधिकारी मोडक ने इस अवसर पर दी है.

कटके ने कहा कि जिले के किसानों को महात्मा जोतीराव फुले किसान कर्जमुक्ति योजना का लाभ देने के लिए बैंको ने अपने नोडल अधिकारियों की नियुक्ति करे़ नोडल अधिकारियों व्दारा किए जानेवाले कामों की जानकारी जिलाधिकारी, अग्रणी जिला व्यवस्थापक और जिला उपनिबंधक कार्यालय को समय समय पर उपलब्ध करवाकर देना चाहिए़ 28 कॉलम में संबंधित किसानों की जानकारी बैंको ने 7 जनवरी तक भरकर देना आवश्यक है़ आधार कार्ड के अनुसार किसानों के नाम आना चाहिए. सभा के लिए बैंको के जिला समन्वयक, लेखा अधिकारी, लेखा परीक्षक, सहायक निबंधक व बैंकों के शाखा व्यवस्थापक उपस्थित थे़