आपात स्थिति का सामना करने तैयार रहे

वाशिम (का). मानसून के दौरान जिले में आपदा स्थिति आ जाने पर उससे निपटने के लिए संबंधित सभी प्रशासकीय विभाग तैयार रहे व इसके लिए आवश्यक उपाय योजना करने के आदेश निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे ने

वाशिम (का). मानसून के दौरान जिले में आपदा स्थिति आ जाने पर उससे निपटने के लिए संबंधित सभी प्रशासकीय विभाग तैयार रहे व इसके लिए आवश्यक उपाय योजना करने के आदेश निवासी उपजिलाधिकारी शैलेश हिंगे ने जिलाधिकारी कार्यालय में हुई मानसून पूर्व समीक्षा बैठक में दिए हैं.

गांवों में आवश्यक उपाय योजना हो

हिंगे ने कहा कि, जिले में मानसून कालावधि में बाढ़ अथवा तूफान आने से नैसग्रिक आपदा आने की संभावना रहती है़ जिससे बाढ़ से बाधित होने की संभावना रहने वाले गांवों में आवश्यक उपाय योजना करें. शहरी भागों में संबंधित नगर परिषद व नगर पंचायतों ने नाले सफाई, खतरे लायक इमारतों की जांच, अग्निशामक दल की तैयारियां आदि बाबत कार्यवाही करे़ लघु सिंचन विभाग, जलसंपदा विभाग ने सभी बांधों पर बिनतारी संदेश यंत्रणा व सूचना फलक लगाना, संपर्क अधिकारी नियुक्त करने के साथ ही अन्य उपाययोजना करने की सूचना उन्होंने दी.

स्वास्थ्य विभाग रोगों के संबंध जनजागृति करें

बारिश के दिनों में निर्माण होने वाले सक्रमक रोगों पर नियंत्रण करने के लिए स्वास्थ विभाग ने जनजागृति करना व उसी प्रकार से रोगों पर नियंत्रण के लिए औषधि की उपलब्धता रखे़ इसी प्रकार से एम्बुलेंस आरोग्य टीम भी तैयार रखने के आदेश हिंगे ने दी है़ प्रारंभ में जिला आपदा व्यवस्थापन अधिकारी बालासाहब बोराडे ने मानसून पूर्व तैयारी बाबत जानकारी दी़

इस अवसर पर जिला अधीक्षक क़ृषि अधिकारी दत्तात्रय गावसाने, उपविभागीय अधिकारी राजेश पारनाईक, डा़ शरद जावले, अभिषेक देशमुख, लघु सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता प्रशांत बोरसे, जिला आपदा व्यवस्थापन अधिकारी बालासाहब बोराडे समेत सभी तहसीलदार, गटविकास अधिकारी, मुख्याधिकारी व संबंधित यंत्रणा के प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे़