वाशिम जिले के 85 गावो के पिने के पाणी की समस्या हल होगी

वाशिम. सन 2018-19 में राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम अंर्तगत महाराष्ट्र जीवन प्राधिकरण अंर्तगत वाशिम जिले के कारंजा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के कारंजा व मानोरा तहसील के कुल 85 गांवों के लिए

वाशिम. सन 2018-19 में राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम अंर्तगत महाराष्ट्र जीवन प्राधिकरण अंर्तगत वाशिम जिले के कारंजा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र के कारंजा व मानोरा तहसील के कुल 85 गांवों के लिए जलआपुर्ति योजना को शासन ने मान्यता दी है. इसमें कारंजा तहसील के 22 गांव, मानोरा तहसील के 9 गांव, रिसोड तहसील के 10 गांव, वाशिम तहसील के 18 गांव, मंगरुलपीर तहसील के 11 गांव, मालेगाव तहसील के 15 गांवों का समावेश होने की जानकारी विधायक राजेंद्र पाटणी ने पत्र परिषद में दी है. राजेंद्र पाटणी के जनसंपर्क कार्यालय में आयोजित पत्र परिषद में उन्होंने बताया की, इस योजना के लिए 53 करोड़ 93 लाख रुपयों की निधि शासन ने मंजूर करने से अब यह काम शीघ्र ही शुरू कर उपरोक्त गांवों पेयजल की समस्या हल होगी.

इस योजना में कारंजा तहसील के 22 गांवों में जानोरी, महागांव, लोहगांव, रामनगर, लोहारा, किसान नगर, भडशिवणी, खानापुर, विलेगाव, मुरंबी, अली मर्दापुर, धोत्रा देशमुख, दादगाव, कुपटी, वापटी, दुधोरा, शिवण बु़ ,पानगव्हाण, उकर्डा, कार्ली चांदई, वारवा कोहर आदि का समावेश किया गया है इसी प्रकार से मानोरा तहसील के 9 गांवों में वसंतनगर, कोलार, देअरवाडी, तलप, शेंदुरजना अढाव, कोंडोली, गलमगांव, जवला बु़, जवला खु़, रिसोड तहसील के 10 गांवों में गोवर्धन, बेलखेडा, मोहजा इंगोले, प्रिप्री सरहद, आसेगांव पेन, कवठा, भोकरखेड, खडकी ढंगारे, धोडप व चिखली़ वाशिम तहसील के 18 गांवों में चिखली बु़, विलेगांव, बोराला हस्सिे, आसोला, जांबरुण परांडे, भोयता, जुमडा, अटकली, अडोली, खंडाला खु, भटउमरा, वाघोली बु़, सायखेडा, राजगांव, मोहगव्हाण दुबे, सुरंकुडी व जांबरुण नावजी, मंगरुलपीर तहसील के 11 गांवों में मसोला बु़, सलांबी, भुर, बिटोडा भोयर, कोठारी, शेंदुरजना मोरे, मोझरी, बोरव्हा, लखमापुर, चांभई व बालदेव मालेगांव तहसील के 15 गांवों में बोराला जहाँ, खडकी इजारा, भेरा, पांघरी नवघरे, कोलगांव, कुराला, वरदरी, मुठा, राजुरा, देवठाणा खांब, मारसुल, केली, सोमठाणा, ताकतोडा व दापुरी कालवे आदि का समावेश है.