water supply

    वाशिम. शहर को जलापूर्ति करनेवाले एक बुर्जी तालाब में पर्याप्त जलभंडार होने के बावजूद भी शहरवासियों को आठ से दस दिनों में एक बार जलापूर्ति की जा रही है़  इस दौरान पानी भी गत सप्ताह में शहर के कुछ भागों में पीले रंग का आने से दूषित पानी होने से नागरिकों के स्वास्थ्य को खतरा होने की संभावना निर्माण हुई थी़  5 जून को स्थानीय शुक्रवार पेठ क्षेत्र में स्वच्छ जलापूर्ति हुई है़  कुछ क्षेत्र में आठ दिन तो कभी कुछ भागों में दस दिन बाद जलापूर्ति हो रही है.

    जलापूर्ति से कृत्रिम जलकिल्लत होने का नागरिकों व्दारा बताया जा रहा है. जिससे नागरिकों में प्रशासन के खिलाफ भारी असंतोष की भावना निर्माण हो रही है़  नप प्रशासन ने दो या तीन बाद करके नियमित जलापूर्ति करने की मांग शहरवासियों व्दारा की जा रही है़  गत वर्ष जिले में अच्छी बारिश होने से जिले में करीब सभी जलाशय पानी से भर गए थे़  इस में यहां के एकबुर्जी तालाब में पर्याप्त जलसंग्रह हुआ था़  परिनाम तहा शहर को जलापूर्ति करनेवाले एकबुर्जी तालाब में अभी पर्याप्त जलभंडार है़.

    इस में अभी बारिश का मौसम शुरू हो रहा है़ लेकिन शहरवासियों को अभी भी आठ से दस दिनों तक पानी की प्रतीक्षा करना पड़ रहा है़  नगर परिषद ने पानी की टैक्स में भारी वृध्दि तो की है़  लेकिन नागरिकों को नियमित प्रतिदिन पानी नही मिल रहा है़ इस समस्या की ओर नप प्रशासन ने ध्यान देकर नागरिकों की पानी की समस्या हल करने की मांग की जा रही है़.

    उल्लेखनीय है कि इस संबंधि शिकायतें दी है़  लेकिन इस ओर अनदेखी होने से नागरिकों में असंतोष की भावना फैल रही है़  शहरवासियों को दो से तीन दिनों बाद नियमित स्वच्छ, शुध्द पानी की आपूर्ति करने की मांग नागरिकों व्दारा की जा रही है़