बीमार बिशप सहित 340 लोग चार्टर्ड विमान से हैदराबाद रवाना

जोहानिसबर्ग. कोरोना वायरस के निपटने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के कारण यहां फंस गए कर्नाटक के बिशप, चार नवजात सहित 340 यात्री ‘इथियोपिया एयरलाइंस’ के चार्टर्ड विमान से रविवार को भारत रवाना हुए। बिशप गंभीर रूप से बीमार हैं। इन यात्रियों में गोवा से एक धार्मिक संगोष्ठी में शामिल होने दक्षिण अफ्रीका आया आठ सदस्यीय ईसाई समूह और कर्नाटक के पारंपरिक चिकित्सा तेल निर्माता जनजाति ‘हक्की पिक्की ‘ का 15 सदस्यीय समूह शामिल है। जोहानिसबर्ग में भारत की महावाणिज्यदूत अंजू रंजन ने बताया कि लगभग सभी यात्री दक्षिणी राज्यों के हैं, जिनमें आधे केवल हैदराबाद के ही हैं।

रंजन ने प्रवासी भारतीयों के समूह ‘सतगुरु ट्रैवल एंड इंडिया क्लब’की सहायता से भारतीयों की स्वदेश वापसी की व्यवस्था की। ये समूह लगभग दो दशकों से दक्षिण अफ्रीका में सामुदायिक सेवा का काम कर रहा है। इंडिया क्लब के अधिकारियों ने बताया कि विमान में सवार कर्नाटक के बिशप को आखिरी स्टेज का कैंसर है और लॉकडाउन के कारण वह यहां फंस गए थे। वह अपनी पैतृक जमीन पर अंतिम सांस लेना चाहते थे। रंजन ने कहा, ‘‘ एक धार्मिक संगोष्ठी में शामिल होने गोवा से आया ईसाइयों एक समूह कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन की वजह से यहां फंस गया और होटल का किराया नहीं चुका पाने के चलते जेल पहुंच गया।” उन्होंने कहा, ‘‘ भारतीय महावाणिज्य दूतावास ने उन्हें छुड़वाया और उनके वापस जाने की व्यवस्था की।”(एजेंसी)