लोगों को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टुल्सा रैली से हिंसा भड़कने की है आशंका

ओकलाहोमा सिटी (अमेरिका). टुल्सा में काले लोगों के समुदाय के नेताओं ने आशंका जताई है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टुल्सा में रैली से हिंसा भड़क सकती है। ओकलाहोमा के गवर्नर ने ट्रंप से उस स्थल पर नहीं आने के लिए कहा है, जहां 1921 में श्वेत लोगों की भीड़ ने 300 काले लोगों की हत्या कर दी थी। चुनाव प्रचार पुन: आरम्भ करते हुए ट्रंप रैलियां कर रहे हैं और वह शनिवार को टुल्सा में रैली करेंगे, जिसमें हजारों लोगों के आने की संभावना है। देश में दास प्रथा के अंत की खुशी में मनाया जाने वाला ‘जूनटीन्थ’ उत्सव भी इसी दौरान मनाया जाएगा।

मिनियापोलिस के रहने वाले अफ्रीकी-अमेरिकी जॉर्ज फ्लॉइड की 25 मई को मौत के बाद यहां कई दिनों तक विरोध प्रदर्शन हुआ था, लेकिन इस दौरान हिंसा की घटनाएं अधिक नहीं हुई थीं। मेट्रोपॉलिटन के बैपटिस्ट चर्च के पादरी रे ओवेन्स ने कहा कि वह काफी चिंतित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं ऐसी अफवाह सुन रहा हूं कि दोनों तरफ से लोग आ रहे हैं, जो शारीरिक या जुबानी लड़ाई छेड़ सकते हैं। यह चीज मुझे चिंतित करती है।” काले समुदाय से जुड़े एक आयोजक मार्क लेविस ने कहा, ‘‘उनकी (ट्रंप) यह यात्रा भड़काऊ है।”(एजेंसी)