Trump and Biden's campaign to woo Hindu voters in America
File

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने कहा कि अगर तीन नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव (Presidential Elections) में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) की जीत होती है तो अमेरिका दिवालिया हो सकता है और दुनिया में हंसी का पात्र बन सकता है। ट्रम्प ने कहा कि बाइडेन ने जो नीतियां प्रस्तावित की हैं, वे देश के लिए ठीक नहीं है।

व्हाइट हाउस (White House) में बृहस्पतिवार को पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘‘आज हमने देखा कि जो बाइडेन महामारी का राजनीतिकरण करना जारी रखे हुए हैं और दिखा रहे हैं कि अमेरिकियों के प्रति उनमें सम्मान नहीं है। हर चरण में वायरस के बारे में बाइडेन गलत हैं। वह वायरस को लेकर गलत थे, उन्होंने वैज्ञानिका सबूतों को नजरअंदाज किया और तथ्यों एवं सबूतों से ऊपर वाम झुकाव वाली राजनीति को रखा।”

ट्रम्प ने ट्वीट किया, ‘‘अगर जो बाइडेन कभी राष्ट्रपति बनते हैं तो पूरी दुनिया हंसेगी और अमेरिका का पूरा फायदा उठाएगी। हमारा देश दिवालिया हो सकता है।”

ट्रम्प ने ट्वीट के साथ् फॉक्स न्यूज का वीडियो भी साझा किया जिसमें न्यूज एंकर बाइडेन की प्रशंसा करने पर भारतीय अमेरिकी कांग्रेस सदस्य प्रमिला जयपाल की निंदा कर रही है। प्रस्तोता ने जयपाल को समाजवादी और कट्टर करार दिया। राष्ट्रपति ने आरोप लगाया, ‘स्लीपी जो ने चीन और यूरोप यात्रा पर रोक लागने का विरोध किया। आप यह जानते हैं। उन्होंने चीन पर यात्रा प्रतिबंध का विरोध किया जो मैंने बहुत पहले ही लगा दिया था और यूरोप पर यात्रा प्रतिबंध का विरोध किया था जिस पर काफी पहले मैंने रोक लगा दी थी। अगर मैं उनकी सलाह मानता तो लाखों और लोगों की मौत हो सकती थी। यह मैं कई लोगों के हवाले से कह रहा हूं।”

ट्रम्प ने आरोप लगाया कि बाइडेन अमेरिका की सीमाओं को खुला रखकर अमेरिकी समुदायों में महामारी की घुसपैठ कराना चाहते हैं। उन्होंने ने आरोप लगाया कि बाइडेन दंगाइयों, लुटेरो और लाखों अवैध प्रवासियों को हमारे देश में खुला घूमने देंगे, वह चाहते हैं कि संघीय सरकार कानून पालन करने नया कानून कराना चाहते हैं ट्रम्प ने कहा, ‘‘वह चाहते हैं कि अमेरिका का राष्ट्रपति आदेश पारित करे कि अमेरिका की 30 करोड़ जनता कम से कम तीन महीने के लिए मास्क पहने। वह मानते हैं कि राजनीति के लिए यह ठीक है। अलग-अलग राज्य मौसम और कोरोना वायरस की समस्या के संदर्भ में अलग-अलग हैं।