American and Russian astronauts leave for International Space Station
Image: Twitter/ NASA

मास्को: अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) (International Space Station) पर तीन अंतरिक्ष यात्रियों (Astronauts) को पहली बार ऐसी तकनीक से भेजा गया है जिससे वह मात्र तीन घंटे में पहुंच जाएंगे। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के केट रूबिन्स तथा रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रॉसकॉसमॉस के सर्जे कुद-स्वर्चकोव और सर्जे रीझिकोव ने बुधवार की सुबह कजाकस्तान के बायकोनूर अंतरिक्ष प्रक्षेपण केंद्र से उड़ान भरी।

 

तीनों अंतरिक्ष यात्री आईएसएस पर छह महीने गुजारेंगे। पहली बार अंतरिक्ष यात्रियों को ऐसी तकनीक से भेजा गया है कि वह तीन घंटे में आईएसएस पर पहुंच जाएंगे। इससे पहले अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुंचने में दोगुना समय लगता था।

तीनों अंतरिक्ष यात्री स्टेशन के कमांडर क्रिस कैसीडी के नेतृत्व में काम करेंगे। आईएसएस के लिए रवाना होने से पहले मंगलवार को हुई प्रेस वार्ता में रूबिन्स ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए क्रू के सदस्यों ने मास्को के बाहर स्थित प्रशिक्षण केंद्र और उसके बाद बायकोनूर में पृथक-वास में रहे।