Before the oath ceremony, Biden's said, America is coming back to its old color

वाशिंगटन. अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) पर आगामी रक्षा मंत्री के चयन को लेकर उनकी ही पार्टी के दो अलग-अलग गुट दबाव बना रहे हैं। एक धड़े का कहना है कि इस पद पर किसी अफ्रीकी-अमेरिकी को चुना जाना चाहिए, जबकि दूसरा धड़ा चाहता है कि रक्षा मंत्री के पद के लिए पहली बार किसी महिला का चयन किया जाए।

इसी बीच, कुछ प्रगतिशील समूह प्रमुख महिला दावेदार मिशेल फ्लोर्नी (Michèle Flournoy) के पुराने रिकॉर्ड के कारण उनका विरोध कर रहे हैं। कम से कम सात प्रगतिशील समूहों ने बाइडन को लिखे पत्र में फ्लोर्नी को इस पद के लिए नहीं चुने जाने की अपील की है। ‘यमनी अलायंस कमेटी’ (Yemeni Alliance Committee) की अध्यक्ष जेहन हकीम ने कहा, ‘‘सैन्य हस्तक्षेप को लेकर फ्लोर्नी के लगातार समर्थन ने यमन समेत दुनियाभर में विनाशकारी संकट पैदा करने में योगदान दिया है।”

फ्लोर्नी के अलावा सेना के जनरल रहे लॉयड ऑस्टिन और पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के दूसरे कार्यकाल में गृह मंत्रालय के प्रमुख रहे जे जॉनसन भी इस पद के दावेदार हैं। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में डेमोक्रेटिक पार्टी के करीब 100 सदस्य ‘प्रोग्रेसिव कॉकस’ से संबंधित हैं, ऐसे में बाइडन के लिए उनका समर्थन और भरोसा बहुत जरूरी है। कांग्रेस में अश्वेतों के प्रमुख समर्थक जेम्स क्लिबर्न ने बाइडन से कैबिनेट में अधिक संख्या में अश्वेत महिलाओं एवं पुरुषों को स्थान देने की अपील की है। अभी तक किसी महिला या अश्वेत व्यक्ति ने रक्षा मंत्री का पदभार नहीं संभाला है।(एजेंसी)