Trump's Republican Party gets a shock, law firm pulls out of the case

वाशिंगटन: अमेरिका (America) में राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी (Democratic Party) के उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) और उपराष्ट्रपति पद के लिए पार्टी उम्मीदवार एवं भारतीय-अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस (Kamala Harris) के समर्थक भारतीय-अमेरिकियों (Indian-Americans) ने कहा है कि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार समुदाय को सबसे अच्छी तरह समझते हैं, जबकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ‘‘शत्रु” है, जो वैश्विक मंच पर भारत की आलोचना करते हैं।

भारतीय अमेरिकियों ने शुक्रवार को कहा कि बाइडेन ने अमेरिकी सीनेटर और उपराष्ट्रपति के रूप में समुदाय की मदद की। सिलिकॉन वैली के उद्यमी अजय जैन भुटोरिया ने कहा, ‘‘ट्रम्प प्रशासन के चार साल के बाद हम यह जानते हैं कि हमारे बच्चों और नाती-पोतों के पास वह अवसर नहीं होंगे, जो हमारे पास थे। हमें ऐसे नेता की आवश्यकता है, जो हमारे समुदाय, हमारे मूल्यों, हमारे गौरव को समझता हो, जो हमारी कड़ी मेहनत की सराहना करे और अपने प्रशासन में समान अवसर दे और हमारी राय ले।”

भुटोरिया ने शुक्रवार को ट्रम्प और बाइडेन के बीच राष्ट्रपति पद के लिए हुई अंतिम बहस का जिक्र करते हुए कहा कि राष्ट्रपति ने वैश्विक मंच पर भारत की आलोचना की। उन्होंने कहा, ‘‘समुदाय समझता है कि भारत का असली मित्र और दुश्मन कौन है। ट्रम्प दुश्मन हैं। ट्रम्प ने बहस के दौरान कहा कि आप भारत में कोविड-19 संक्रमण के मामलों की संख्या पर भरोसा नहीं कर सकते और भारत दूषित है। उन्होंने H1-B वीजा कार्यक्रम निलंबित कर दिया, भारत के साथ व्यापार समझौतों को खतरे में डाल दिया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मित्रता को केवल तस्वीर खिंचवाने के अवसर के तौर पर इस्तेमाल किया।”

भुटोरिया ने कहा, ‘‘बाइडेन ने व्हाइट हाउस में (अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक) ओबामा के साथ दीपावली मनाई थी।” उन्होंने कहा कि बाइडेन और हैरिस का भारतीय-अमेरिकियों के साथ गहरा नाता है। कैलिफोर्निया स्टेट असेम्बली की सदस्य ऐश कालरा ने कहा कि वह पिछले दो दशक से हैरिस और उनकी बहन माया को जानती है। उन्होंने कहा कि हैरिस को अपनी भारतीय विरासत पर गर्व है। कारोबारी अशोक भट्ट ने कहा कि ओबामा-बाइडेन के पूर्व प्रशासन ने भारत को प्राथमिकता दी थी।