अमेरिका मार्शल्स की गोलीबारी में अश्वेत की मौत, मिनियापोलिस में लोगों ने किया प्रदर्शन

    मिनियापोलिस (अमेरिका). ‘अमेरिका मार्शल्स सर्विस’ (U.S. Marshals Service) के कार्यबल की गोलीबारी में एक अश्वेत आरोपी की मौत के विरोध में मिनियापोलिस में (Minneapolis) प्रदर्शन कर रहे लोगों और अधिकारियों के बीच शनिवार तड़के झड़प हुई। विंस्टन बूगी स्मिथ जूनियर (Winston Boogie Smith Jr.) (32) की गोलीबारी में हुई मौत के खिलाफ प्रदर्शन की तस्वीरों में दिख रहा है कि सड़कों पर कूड़े के ढेर में आग लगी है और कई अधिकारी घटनास्थल पर मौजूद हैं। मिनियापोलिस के अपटाउन के पड़ोस में बृहस्पतिवार को हुई गोलीबारी की इस घटना के विरोध में लगातार दूसरे दिन प्रदर्शन हुए।

    पुलिस ने बताया कि 27 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से 26 आरोपियों के खिलाफ दंगे करने और एक आरोपी के खिलाफ हथियार संबंधी आरोप लगाए गए है। इस दौरान कोई हताहत नहीं हुआ, लेकिन कुछ कारोबारी इमारतों को क्षति पहुंची है। प्राधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि स्मिथ हथियार संबंधी कानून के उल्लंघन के मामले में वांछित था और उसने अमेरिका मार्शल्स के दो अधिकारियों पर गोली चलाई थी, जिसके बाद अधिकारियों ने उस पर गोलियां चलाईं। ‘अमेरिका मार्शल्स फ्युगिटिव टास्क फोर्स’ के कर्मी बंदूक रखने के आरोप में जारी वारंट के आधार पर स्मिथ को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रहे थे।

    स्मिथ के परिजन एवं मित्रों ने बताया कि वह तीन बच्चों का पिता था और पुलिस उसे अकसर परेशान किया करती थी। उन्होंने पुलिस से जांच में पारदर्शिता की अपील की। पुलिस ने बताया कि बृहस्पतिवार को हुई गोलीबारी के बाद कुछ लोगों ने इमारतों में तोड़-फोड़ की और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में चोरी की। दंगा, मारपीट, आगजनी और संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के संदेह समेत कई आरोपों के तहत नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उल्लेखनीय है कि मिनियापोलिस में करीब एक साल पहले पुलिस कार्रवाई में अश्वेत जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद व्यापक प्रदर्शन हुए थे। (एजेंसी)