Blocking the weblink of unverified political news was wrong: Twitter CEO

सेन फ्रांसिस्को (अमेरिका): ट्विटर (Twitter) के सीईओ (CEO) जैक डोर्सी (Jack Dorsey) ने शुक्रवार को कहा कि एक असत्यापित राजनीतिक खबर का वेबलिंग ब्लॉक करना गलत था। उन्होंने ट्वीट किया , ‘‘यूआरएल को ब्लॉक करना गलत था और हमने अपनी नीति को अद्यतन किया है तथा इसे ठीक करने के लिए कदम उठाया है। हमारा लक्ष्य संदर्भ जोड़ने की कोशिश करना है और अब हमारे पास ऐसा करने की क्षमता है।”

सोशल मीडिया कंपनी के एक अधिकारी ने आलोचना के बाद हैक (Hack) की गई सामग्री पर अपनी (कंपनी की) नीति में बदलावों की बृहस्पतिवार देर रात घोषणा की थी। कंपनी के कानूनी, नीति, विश्वास एवं सुरक्षा मामलों के प्रमुख विजय गाड्डे ने एक ट्विटर थ्रेड में कहा कि टि्वटर अब हैक सामग्री को तब तक नहीं हटाएगा, जब तक कि इसे सीधे तौर पर हैकरों या उनके साथ काम करने वालों द्वारा साझा नहीं किया गया हो। उन्होंने कहा कि लिंक को साझा किए जाने से ब्लॉक करने की बजाय ट्वीट के लिए संदर्भ मुहैया करने को कहा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि ट्विटर और फेसबुक ने परंपरादवादी झुकाव रखने वाले न्यूयॉर्क पोस्ट द्वारा प्रकाशित खबर के प्रसार को सीमित करने के लिए इस हफ्ते तत्परता दिखाई है। इन सोशल मीडिया साइटों ने इस बात का जिक्र किया कि डेमोक्रेटिक पार्टी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन के बेटे के असत्यापित ईमेल को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सहयोगियों ने कथित तौर पर ढूंढ़ लिया है। हालांकि, इस खबर की अन्य प्रकाशनों ने पुष्टि नहीं की थी।

टि्वटर ने शुरुआत में प्रतिक्रिया करते हुए लोगों को इस खबर का लिंक ट्वीट और डायरेक्ट मैसेज (डीएम) में साझा करने से प्रतिबंधित कर दिया क्योंकि यह हैक की गई सामग्री को निषिद्ध करने की कंपनी की नीति का उल्लंघन करता है। लेकिन इसने यूजरों (टि्वटर का उपयोग करने वालों) को इस बारे में आगाह नहीं किया था कि वे लिंक को साझा क्यों नहीं कर सकते हैं।