blast
Representative Picture

काबुल: पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान (Afghanistan) के गजनी प्रांत (Ghazni Province) में शुक्रवार को रिक्शा में छिपाकर रखे गए बम में विस्फोट (Bomb Blast) होने से उसकी चपेट में आकर 15 बच्चों की मौत हो गई जबकि अन्य 20 घायल हुए हैं। गजनी प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता वहीदुल्लाह जुमाजादा (Wahidullah Jumazada) ने बताया कि हमला दोपहर को गिलान जिले में हुआ।

बम धमाका उस समय हुआ जब चालक मोटर चालित रिक्शे के साथ सामान बेचने के लिए गांव में दाखिल हुआ और जल्द ही बच्चों ने उसे घेर लिया। जुमाजादा के मुताबिक हताहतों की संख्या बढ़ सकती है। तत्काल किसी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। प्रवक्ता ने बताया कि इस बात की जांच की जा रही है कि बच्चों को क्यों निशाना बनाया गया।

उल्लेखनीय है कि दो दशक पुराने युद्ध की समाप्ति के लिए कतर में अफ़ग़ानिस्तान की सरकार (Afghanistan Government) और चरमपंथी तालिबान (Taliban) के वार्ताकारों के बीच जारी वार्ता बावजूद हाल के महीनों में हिंसा की घटनाएं बढ़ी है।

यह हमला ऐसे समय हुआ है जब अमेरिका के ज्वांइट चीफ ऑफ स्टाफ जनरल मार्क मिले ने मंगलवार को दोहा में तालिबान के नेताओं के साथ बिना पूर्व में घोषणा किए, एक बैठक कर अमेरिका-तालिबान समझौते (America-Taliban Agreement) के सैन्य पहलुओं पर चर्चा की है।

समझौते का उद्देश्य तालिबान और अफ़ग़ानिस्तान की सरकार के बीच सीधी शांति वार्ता के लिए मंच तैयार करना है। दोहा (Doha) में बातचीत के बाद जनरल मिले अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ घनी (Ashraf Gani) से परामर्श करने के लिए काबुल रवाना हो गए। मिले ने जोर देकर कहा कि दोनों पक्षों को तेजी से हिंसा कम करने की जरूरत है।