कोविड-19 से मरने वाले भारतीय मूल के डॉक्टर को ब्रिटिश अस्पताल ने दी श्रद्धांजलि

लंदन. पूर्वी इंग्लैंड के एक अस्पताल ने कोविड-19 (Covid-19) से मरने वाले भारतीय मूल के एक ‘‘समर्पित और प्रतिबद्ध” डॉक्टर को शुक्रवार को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल ऑफ डर्बी एंड बर्टोन एनएचएस फाउंडेशन (यूएचडीबी)(University Hospital of Derby and Bertone NHS Foundation) (UHDB), के रॉयल डर्बी अस्पताल में एनेस्थिशिया विभाग में कंसल्टेंट 46 वर्षीय डॉक्टर कृष्णन सुब्रमणियन की बृहस्पतिवार (Krishnan Subramanian) को लीसेस्टर के ग्लेनफील्ड अस्पताल में मौत हो गई।

ट्रस्ट ने कहा कि उनकी याद में सोमवार को सुबह 11 बजे (स्थानीय समय) रॉयल डर्बी अस्पताल के मुख्य द्वार पर एक मिनट का मौन रखा जाएगा। ट्रस्ट के मुख्य कार्यकारी गाविन बोयले ने कहा, ‘‘यूएचडीबी परिवार के लिए दु:खद दिन है। कृष्णन इस परिवार के महत्वपूर्ण सदस्य थे और इस पूरे साल उन्होंने जरुरतमंदों की मदद के लिए अथक परिश्रम किया। ऐसे समय में हमारी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं और मैं यूएचडीबी की ओर से संवेदना व्यक्त करता हूं।”

उन्होंने कहा, ‘‘एनेस्थिशिया और ऑपरेशन थियेटर में काम करने वाली हमारी टीमों ने इस साल बहुत मेहनत से काम किया है। उनके लिए कृष्णन को इस तरह से खोना दिल टूटने जैसा है, और हम आने वाले दिनों, सप्ताहों में टीम का साथ देने की हर संभव कोशिश करेंगे। कृष्णन के जाने से बेशक हमारे कर्मचारियों पर बहुत असर होगा और हम उन्हें काउंसलिंग सहित अन्य मदद मुहैया कराने की पूरी कोशिश कर रहे हैं।” सुब्रमणियन 2014 की शुरुआत में राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) से जुड़े थे। इससे पहले वह यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल ऑफ लीसेस्टर एनएचएस ट्रस्ट के साथ काम कर रहे थे। (एजेंसी)