China, Russia violating sovereignty of small countries: US

ग्रीनविल (अमेरिका): अमेरिका (America) के रक्षा मंत्री (Defense Minister) मार्क एस्पर (Mark Esper) ने कहा कि चीन (China) और रूस (Russia) अमेरिका के कठिन मेहनत से अर्जित फायदों को नष्ट करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि ये दोनों देश अंतरराष्ट्रीय नियमों, मानकों को कमजोर कर रहे हैं और अपने लाभ के लिए अन्य देशों पर दबाव डाल रहे हैं।

थिंकटैंक ‘हेरिटेज फाउंडेशन’ की ओर से बृहस्पतिवार को आयोजित एक वेबिनार में एस्पर ने कहा कि उन्होंने नेशनल डिफेंस यूनिवर्सिटी को निर्देश दिया है कि वह अपने पाठ्यक्रम की 50 फीसदी सामग्रियों को अकादमिक सत्र 2021 से चीन पर फिर से केंद्रित करें।

एस्पर ने कहा, “आज हमारे रणनीतिक प्रतिद्वंद्वी चीन और रूस अमेरिका के कठिन मेहनत से अर्जित फायदों को नष्ट करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि वे अंतरराष्ट्रीय नियमों, मानदंडों को क्षीण कर रहे हैं और अपने फायदे के लिए अन्य देशों पर दबाव डाल रहे हैं।”

एस्पर ने कहा कि अमेरिका इस तरह की व्यवस्था को चीन के कारोबारी व्यवहार और दक्षिण एवं पूर्वी चीन सागर में आक्रामक रुख के रूप में वैश्विक स्तर पर देखता है जबकि रूस अंतरराष्ट्रीय दायित्वों और अपने पड़ोसी देशों की संप्रभुता का उल्लंघन करता है।