China's exposed on every front, have now settled three villages have been on Arunachal border

मुंबई: एलएसी (LAC) पर लगातार तनाव का माहौल पैदा करने के बावजूद भारत (India) से हर मोर्चे पर फेल हो रहे चीन (China) की खतरनाक चाल की पोल आखिरकार खुल गई है। खबर है, चीन ने अरुणाचल प्रदेश सीमा (Arunachal Pradesh Border) पर तीन गांव बसा दिए हैं और वहां पर कई लोगो को ज़िंदगी गुज़र बसर करने के लिए शिफ्ट भी कर दिया है। सैटेलाइट इमेजिस (Satellite Images) से पता चलता है कि जो तीन गांव चीन ने बसाए हैं उन में मौजूद सभी घरों की छत एक ही रंग की है। लाल रंग वाले इन घरों को सैटेलाइट इमेजिस में देखा जा सकता है।  

गांव बुमा ला दर्रे से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर हैं

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, सैटलाइट तस्वीरों से पता चलता है कि, चीन ने ये गांव बुमा ला दर्रे से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर चीन, भूटान और भारत की सीमा के पास बसाएं हैं। वैसे इस क्षेत्र को लेकर चीन पहले से ही अपना होने का दावा करता आया है। जानकार मानते हैं कि चीन की यह चाल इस क्षेत्र में अपनी मौजूदगी ज़ाहिर करना चाहता है और इस क्षत्रे में अपने दावों को मज़बूत करना चाहता है। बतादें कि चीन अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं देने की बात करता आया है। 1962 के युद्ध में भी चीन इन इस क्षत्रे के कुछ हिस्से में अपना कब्ज़ा जमा लिया था।

कनेक्टिविटी के लिए सड़क भी है मौजूद 

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, प्लैनेट लैब्स की 17 फरवरी 2020 की कुछ तस्वीरों को अनुसार इस क्षेत्र में सिर्फ एक ही गांव मौजूद था और यहां करीब 20 घर थे लेकिन 28 नवंबर 2020 की तस्वीरों में साफ़ होता है कि घरों की संख्या करीब अब 50 है और अब यहां तीन बस्तियां मौजूद हैं जो एक दूसरे से करीब 1 किलोमीटर की दूरी पर बनाई गई हैं । इन्हे जोड़ने के लिए सड़क भी बनाई गई है जो कि हर मौसम में इस्तेमाल की जा सकती है। 

China's exposed on every front, have now settled three villages have been on Arunachal border

Image:Twitter/@detresfa_

चीन अपनी सीमाओं के आसपास इस तरह के कार्य कर अपने दावों को मज़बूत करना चाहता है

रिपोर्ट में चीन मामलों के जानकारों के हवाले से कहा गया है कि, चीन अपनी सीमाओं के आसपास इस तरह के कार्य कर अपने दावों को मज़बूत करना चाहता है जिससे वो आसानी से घुसपैठ कर सके। साउथ चीन सी पर भी कब्ज़े के लिए उसने इस रणनीति का इस्तेमाल किया था जिसमें इससे पहले चीनी मछुआरों को बसने की चाल का इस्तेमाल किया गया था।

भूटान की ज़मीन पर भी दो गांव बसा दिए 

हाल ही में सामने आयीं भूटान की सीमा के पास की तस्वीरों से भी साफ़ होता है कि चीन भूटान की ज़मीन पर भी कब्ज़े का इरादा रखता है। सैटेलाइट तस्वीरों से पता चलता है कि भूटान की ज़मीन पर भी दो गांव बसा दिए हैं। जिस जगह यह गांव बसाए गए हैं वे 2017 में जिस जगह डोकलाम फेसऑफ़ था वहां से करीब 7 किलोमीटर की दूरी पर हैं।