Corona Updates : India reports 43,509 fresh infections, 38,465 recoveries in the last 24 hours on Thursday, July 29
Representative Photo

    वाशिंगटन: एशियाई-अमेरिकी समुदाय (Asian-American Community) के अनेक समूहों के संघ ‘दी न्यू इंग्लैंड एशियन अमेरिकन कोएलिशन’ (एनईएएसी) ने भारत (India) को दस लाख डॉलर की कोविड-19 (Covid-19) सहायता देने की रविवार को घोषणा की। इनमें भारतीय और चीनी समूह भी शामिल हैं। एनईएएसी ने एक वक्तव्य में बताया कि गैर सरकारी संगठनों ‘सेवा इंटरनेशनल यूएसए’ और ‘एकल विद्यालय फाउंडेशन’ भारत को वैश्विक महामारी से निपटने में सहायता देने के लिए वह दस लाख डॉलर की राशि जुटाएगा।

    ‘न्यू इंग्लैंड चाइनीज अमेरिकी अलायंस’ के जॉर्ज एच ने कहा, ‘‘ इस मानवीय संकट के दौरान मदद करने के लिए एशियाई-अमेरिकी लोग साथ आ रहे हैं और अपने समुदाय के लोगों के साथ खड़े हैं।” एक विज्ञप्ति में बताया गया कि फिलहाल इस संघ का पूरा ध्यान स्वास्थ्य संकट के दौरान राहत पहुंचाने पर है, लेकिन दीर्घकालिक लक्ष्य है एशियाई-अमेरिकी लोगों के एक ऐसे समूह की नींव रखना जो हर जरूरत के मौके पर मदद कर सके।

    इस संघ की शुरुआत करने वाले सतीश झा ने कहा, ‘‘जब भी अमेरिका या कहीं भी, कोई भी मुश्किल आती है तो एशियाई-अमेरिकी मदद देने में सबसे आगे होते हैं। हम एकजुट होकर और प्रभावी रूप से यह काम कर सकते हैं।” ‘सेवा इंटरनेशनल’ से जुड़े कार्यकर्ता राजू डी. ने कहा कि इस संगठन ने 7,250 से अधिक ऑक्सीजन सांद्रक और 250 वेंटीलेटर भारत भेजे हैं।

    एकलव्य विद्वालय की कार्यकारी निदेशक रजनी सैगल ने बताया कि ग्रामीण भारत पर ध्यान केंद्रित रखते हुए संगठन की ओर से गांवों में 10,000 चिकित्सा उपकरण और मेडिकल किट भेजे गए हैं।